HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3. भारतीय मूल के व्यक्ति को सौंपा गया अमेरिका में कोरोना महामारी को रोकने का जिम्मा

भारतीय मूल के व्यक्ति को सौंपा गया अमेरिका में कोरोना महामारी को रोकने का जिम्मा

अमेरिका में भारतीय मूल के विवेक मुर्ति को कोरोना को रोकने का जिम्मा सौंपा गया है। अमेरिकी सीनेट ने मंगलवार को वोटिंग से विवेक मुर्ति को सर्जन जनरल चुना। विवेक मूर्ति के समर्थन में 57 अमेरिकी सीनेटर्स ने वोट किया, जबकि 43 सीनेटर्स ने उनके नाम पर संतुष्टि नहीं जताई। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइेडन के नए सर्जन जनरल भारतीय- अमेरिकी विवेक मुर्ति ने कहा कि उनकी प्राथमिकता कोरोना वायरस को खत्म करना है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

वाशिंगटन। अमेरिका में भारतीय मूल के विवेक मुर्ति को कोरोना को रोकने का जिम्मा सौंपा गया है। अमेरिकी सीनेट ने मंगलवार को वोटिंग से विवेक मुर्ति को सर्जन जनरल चुना। विवेक मूर्ति के समर्थन में 57 अमेरिकी सीनेटर्स ने वोट किया, जबकि 43 सीनेटर्स ने उनके नाम पर संतुष्टि नहीं जताई। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइेडन के नए सर्जन जनरल भारतीय- अमेरिकी विवेक मुर्ति ने कहा कि उनकी प्राथमिकता कोरोना वायरस को खत्म करना है।

पढ़ें :- Bolivia Horrific Road Accident : बोलीविया सड़क हादसे में 16 यात्रियों की मौत , 14 अन्य घायल

सर्जन जनरल चुने जाने के बाद विवेक मूर्ति ने ट्वीट कर कहा, सर्जन जनरल के रूप में एक बार फिर सेवा करने के लिए सीनेट द्वारा पुष्टि किए जाने के लिए मैं बेहद आभारी हूं। हमने पिछले एक वर्ष में एक देश के रूप में बड़ी कठिनाइयों का सामना किया है। मैं हमारे देश को शानदार और हमारे बच्चों के बेहतर भविष्य को बनाने में मदद करने के लिए आपके साथ काम करने के लिए उत्साहित हूं।

अमेरिकी लोगों को मास्क पहनने से जैसे सुरक्षात्मक उपायों के लिए राजी करना उनके लिए एक कठिन चुनौती होने वाली है। इससे पहले, मूर्ति ने बाइडेन के कोरोनावायरस सलाहकार बोर्ड के सह-अध्यक्ष के रूप में कार्य किया. कहा जाता है कि मूर्ति राष्ट्रपति के काफी करीबी हैं। मूर्ति के परिवार के कुछ लोग भी कोरोना वायरस से संक्रमित हुए थे। मूर्ति ने सीनेटर्स के समक्ष कहा कि वह आम लोगों को स्पष्ट, विज्ञान-आधारित मार्गदर्शन बताकर लोगों और परिवारों की रक्षा करने में मदद करना चाहते हैं।

 

पढ़ें :- आरक्षण की आग में जल रहा है बांग्लादेश, देखते ही गोली मार देने का आदेश, अब 114 की मौत
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...