नोटबंदी के बाद सब्जीवाले से लेकर चायवाले तक हुए कैशलेस, देखें तस्वीरें

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा 500 और 1000 के नोट बंद किए जाने के बाद बाजार में आई नगदी की कमी का सबसे बड़ा असर छोटे दुकानदारों पर पड़ा है। सब्जी वाले, चाय की दुकान, पान की दुकान और चाट वालों के सामने इन दिनों अपने ग्राहकों से पैसे लेना और बचे पैसे वापस लौटाना बड़ी समस्या बन गया है। चूंकि देश के प्रधानमंत्री ने नोटबंदी के फैसले को देशहित में बताते हुए देशवासियों से 50 दिन का सहयोग मांगा है इसलिए बड़ी संख्या में ऐसे लोग हैं, जिन्होंने छोटे नोटों की कमी का हल निकाल लिया है। उन लोगों में एक बड़ी तादात छोटे दुकानदारों की भी है जिनकी रोज की दुकानदारी कुछ हजार तक ही सीमित होती है। अब ऐसे दुकानदार भी कैशलेस हो चले है।




नोटबंदी लागू हुए आज 7वां दिन हैं। इन सात दिनों में परिस्थितियां बदलीं हैं। लोगों के सामने परेशानियां जरूर हैं लेकिन कुछ लोग उन परेशानियों के बीच अपनी सहूलियतें भी ढूंढ़ लाए हैं। दिल्ली, मुंबई, बैंगलुरू और कोलकाता समेंत देश के कई बड़े शहरों के छोटे दुकानदार अब नगदी की कमी का हल निकाल लाए हैं।

कैशलेस
कैशलेस





यूपी की राजधानी लखनऊ की बता करें तो यहां बैंकों और एटीएम के सामने लगी लाइनें बता रहीं हैं कि लोगों के लिए रोजमर्रा की जरूरतों को पूरा करने के लिए कैश की कमी दूर होने में समय लगने वाला है। जब तक एटीएम की सुविधा पूरी तरह से बहाल नहीं होती और 500 के नए नोट बाजार में नहीं आते तब तक 2000 और 100 के नोट लोगों की खाली जेबों में टिक नहीं पाएगें।




इस बीच इस शहर में ऐसी छोटी दुकानों की कमी नहीं है जहां सड़क के किनारे बैठे दुकानदार लोगों को पेटीएम (PayTM)में माध्यम से पैसे देने की सुविधा दे रहे हैं। ऐसे ही एक दुकानदार है गोमतीनगर में पान की गुमटी लगाने वाले छोटू की जहां पेटीएम की सुविधा उपलब्ध है पिछले 5 दिनों में करीब 5000 रुपए की दुकानदारी पेटीएम की वजह से हुई है।
panipuri-wala




ऐसा ही कुछ नोएडा और गुरुग्राम में भी देखने को मिल रहे हैं। जहां एमएनसी में काम करने वाले कर्मचारियों को सहूलियत देने के लिए छोटे दुकानदारों के लिए पेटीएम एक अहम जरिया बना है। लोग चाय से लेकर पराठे तक और आॅटो से लेकर कैब तक के पेमेन्ट पेटीएम या अन्य आॅनलाइन ट्रांजिक्शन एप्स के जरिए हो रहे हैं।




सोशल साइट्स पर भी ऐसी ही कुछ तस्वीरें वॉयरल हो रहीं है जहां सब्जी की दुकान से लेकर पानी पुरी बेंचने वाले कार्ड और पेटीएम से भुगतान स्वीकार करने लगे हैं।

Loading...