1. हिन्दी समाचार
  2. जानें क्यों इमामबाड़ा परिसरों में फोटोग्राफी, वीडियोग्राफी हुई BAN!

जानें क्यों इमामबाड़ा परिसरों में फोटोग्राफी, वीडियोग्राफी हुई BAN!

Photography And Videography Is Banned In Imambada Campus

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

लखनऊ। भारतीय सभ्यता ही भारत की सबसे बड़ी धरोहर है जिसको आज कल के नौजवान पीड़ी निस्तानाबूत करने में लगे हैं। ऐसे में उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में डीएम ने निर्देश जारी किए है जिसके तहत अब कोई भड़कीले कपड़े पहनकर इमामबाड़े में नहीं जा सकेगा। यह सख्ती अराजकता रोकने के लिए की जा रही है। डीएम ने भूलभुलैया (बड़ा इमामबाड़ा), छोटा इमामबाड़ा सहित हुसैनाबाद ट्रस्ट से जुड़े ऐतिहासिक महत्व के स्मारकों में शालीन कपड़ों में ही पर्यटकों को प्रवेश देने का निर्देश जारी किया है।

पढ़ें :- अंडरवर्ल्ड ले डूबा इन 5 अभिनेत्रियों का करियर, कोई गई जेल, तो कोई बनी संन्यासिनी

दरअसल, इमामबाड़ा परिसरों में ट्राइपॉड कैमरे, वीडियो कैमरे के साथ प्रोफेशनल तरीके से होने वाली फोटोग्राफी, वीडियोग्राफी के साथ फिल्म की शूटिंग को भी प्रतिबंधित कर दिया गया है। इसका पालन सख्ती से कराने के लिए सीधी जिम्मेदारी ट्रस्ट की ओर से तैनात सुरक्षाकर्मियों पर होगी। यह जानकारी हुसैनाबाद ट्रस्ट के नामित अध्यक्ष व डीएम कौशल राज शर्मा ने दी। वह शनिवार को हुसैनाबाद ट्रस्ट व संरक्षित स्मारकों के सौंदर्यीकरण, संरक्षण को लेकर बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।

वहीं, ट्रस्ट की भू-संपत्तियों के संबंध में बताया गया कि 336 अवैध मकान चिह्नित हुए हैं, जिनमें कब्जेदार वर्षों से बिना किराया दिए रह रहे हैं। डीएम ने एक माह में इनका सत्यापन कर रिपोर्ट देने को कहा। इसके आधार पर नए सिरे से तय किराया राशि का 11-11 माह का अनुबंध होगा। अनुबंध न करने वालों को नोटिस जारी कर बेदखल किया जाएगा।

इतना ही नहीं डीएम ने ट्रस्ट सचिव व एडीएम सिटी पश्चिम को निर्देश दिया कि बिना अनुमति ट्रस्ट संपत्ति की दुकानों के मूल स्वरूप से छेड़छाड़ करने वालों से दुकानें खाली कर दूसरे को दी जाए। साथ ही छोटा व बड़ा इमामबाड़ा, शाहनजफ इमामबाड़ा, रौजा-ए-काजमैन से जुड़े भवनों में बारिश से पहले मरम्मत कराई जाए।

बता दें, डीएम ने पुरातत्व विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिया कि शहर में ऐतिहासिक धरोहर के ऐसे स्मारकों में कराए जाने वाले कामों और इन पर अनुमानित खर्च का प्रस्ताव एक साथ तैयार कर दें। यह भी कहा कि स्मारकों में पर्यटनों की आवाजाही को देखते हुए दो शिफ्ट में सफाई कराई जाए। जरूरत पड़े तो इसके लिए आउटसोर्सिंग से भी कर्मचारी जुटाएं।

पढ़ें :- इन अभिनेत्रियों ने अपने दम पर बनाई बॉलीवुड में पहचान, नंबर 1 को मिल चुके है 3 नेशनल अवॉर्ड

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...