29 साल की सजा काट कर आया पत‍ि, पत्नी के सामने प्रेमी को मारी गोली

man
29 साल की सजा काट कर आया पत‍ि, पत्नी के सामने प्रेमी को मारी गोली

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के पीलीभीत जिले में एक शख्स ने अपनी पत्नी के साथ अवैध संबंधों का आरोप लगाते हुए एक पूर्व प्रधान को गोली मार दी। जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। पुलिस ने घायल पूर्व प्रधान को जिला अस्पताल पहुंचाया है। बताया जा रहा है कि, जिस शख्स ने इस वारदात को अंजाम दिया वह चार माह पहले ही 29 साल की सजा काटकर जेल से बाहर आया था। पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी है।

Pilibhit Man Shot The Lover Of Wife After Coming Out From The Jail :

बताया जा रहा है कि फर्रुखाबाद जिले के कायमगंज निवासी रामरतन की शाहजहांपुर की सुनीता से हुई थी। शादी के कुछ दिन बाद ही हत्या के एक मामले में रामरतन को सजा हो गई और वह जेल चला गया। पति के जेल चले जाने के बाद सुनीता पीलीभीत के दियोरिया थानाक्षेत्र के निवासी पूर्व प्रधान भगवान दास के साथ प्रेम प्रसंग के चलते उसके साथ ही रहने लगी। बाद में दोनों ने एक पुत्र को भी जन्म दिया।

घटना के बाद मौके से फरार हुए अभियुक्त

इसी बीच जब सुनीता का पति रामरतन 29 साल बाद अपनी सजा पूरी करके कुछ दिनों पहले बाहर आया। इसके बाद सुनीता फिर से रामरतन के साथ आकर रहने लगी। हाल ही में रामरतन को पत्नी और पूर्व प्रधान के बीच रिश्तों का पता चला, जिसके बाद उसने साथियों के साथ मिलकर सुनीता के सामने ही पूर्व प्रधान को गोली मार दी। घटना के बाद सभी मौके से फरार हो गए।

गोलीकांड की जानकारी पाकर पहुंची पुलिस ने आनन-फानन में पूर्व प्रधान भगवानदास को इलाज के लिए जिला अस्पताल भर्ती कराया है। दियोरिया कोतवाल शहरोज अनवर ने बताया कि भगवान दास के बेटे की ओर से मिली तहरीर के आधार पर आईपीसी की धारा 307 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के पीलीभीत जिले में एक शख्स ने अपनी पत्नी के साथ अवैध संबंधों का आरोप लगाते हुए एक पूर्व प्रधान को गोली मार दी। जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। पुलिस ने घायल पूर्व प्रधान को जिला अस्पताल पहुंचाया है। बताया जा रहा है कि, जिस शख्स ने इस वारदात को अंजाम दिया वह चार माह पहले ही 29 साल की सजा काटकर जेल से बाहर आया था। पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी है। बताया जा रहा है कि फर्रुखाबाद जिले के कायमगंज निवासी रामरतन की शाहजहांपुर की सुनीता से हुई थी। शादी के कुछ दिन बाद ही हत्या के एक मामले में रामरतन को सजा हो गई और वह जेल चला गया। पति के जेल चले जाने के बाद सुनीता पीलीभीत के दियोरिया थानाक्षेत्र के निवासी पूर्व प्रधान भगवान दास के साथ प्रेम प्रसंग के चलते उसके साथ ही रहने लगी। बाद में दोनों ने एक पुत्र को भी जन्म दिया। घटना के बाद मौके से फरार हुए अभियुक्त इसी बीच जब सुनीता का पति रामरतन 29 साल बाद अपनी सजा पूरी करके कुछ दिनों पहले बाहर आया। इसके बाद सुनीता फिर से रामरतन के साथ आकर रहने लगी। हाल ही में रामरतन को पत्नी और पूर्व प्रधान के बीच रिश्तों का पता चला, जिसके बाद उसने साथियों के साथ मिलकर सुनीता के सामने ही पूर्व प्रधान को गोली मार दी। घटना के बाद सभी मौके से फरार हो गए। गोलीकांड की जानकारी पाकर पहुंची पुलिस ने आनन-फानन में पूर्व प्रधान भगवानदास को इलाज के लिए जिला अस्पताल भर्ती कराया है। दियोरिया कोतवाल शहरोज अनवर ने बताया कि भगवान दास के बेटे की ओर से मिली तहरीर के आधार पर आईपीसी की धारा 307 के तहत मामला दर्ज किया गया है।