1. हिन्दी समाचार
  2. कोरोना पॉजिटिव निकला पायलट, एयर इंडिया ने वापस बुलाई फ्लाइट

कोरोना पॉजिटिव निकला पायलट, एयर इंडिया ने वापस बुलाई फ्लाइट

Pilot Turned Corona Positive Air India Called Back Flight

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

नई दिल्ली: एयर इंडिया की एक फ्लाइट शनिवार सुबह दिल्ली से रूस के लिए उड़ान भर चुकी थी। सबकुछ ठीक चल रहा था कि एक फोन आता है। पता चलता है कि फ्लाइट उड़ा रहा पायलट ही कोरोना पॉजिटिव है। फिर क्या फ्लाइट को रास्ते में से ही दिल्ली वापस बुला लिया जाता है। एयर इंडिया की छोटी सी इस चूक की वजह से आज एक बड़ा कोरोना ब्लास्ट हो सकता था लेकिन इसे समय रहते सुधार लिया गया।

पढ़ें :- गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या: राष्ट्रपति ने कहा-सैनिकों की बहादुरी पर हम सभी देशवासियों को गर्व है

दिल्ली से मॉस्को जा रही एयर इंडिया की इस फ्लाइट को रास्ते से ही वापस बुला लिया गया। उस वक्त फ्लाइट उज़्बेकिस्तान तक पहुंची थी। दरअसल, फ्लाइट निकलने से पहले पायलट की कोरोना रिपोर्ट जांची जाती है। स्टाफ ने गलती से पॉजिटिव को नेगेटिव पढ़ दिया और पायलट को मॉस्को के लिए रवाना कर दिया। फ्लाइट वंदे भारत मिशन के तहत मॉस्को में फंसे भारतीयों को लेने जा रही थी। इसलिए उस दौरान इसमें सिर्फ क्रू मेंबर थे और कोई यात्री नहीं था। यात्रियों को मॉस्को से चढ़ना था।

मिली जानकारी के मुताबिक, फ्लाइट दोपहर 12.30 बजे दिल्ली वापस आई। कैबिन क्रू को फिलहाल क्वांराइन में रखा गया है। प्लेन को भी सैनिटाइज किया जाएगा। इसकी जगह दूसरे प्लेन को मॉस्को के लिए रवाना किया गया। एयर इंडिया से जुड़े सूत्र ने इसे बड़ी चूक बताया है जो काम से ज्यादा प्रेशर के चक्कर में हुई। वह बताते हैं कि रोजाना करीब 300 क्रू मेंबर की टेस्टिंग हो रही है। इनका रिजल्ट एक्सल शीट में लिखकर आता है। उसी में यह चूक हो गई।

बिना यात्रियों की यह फ्लाइट शनिवार सुबह ही उड़ी थी। फ्लाइट को दो घंटे बीत चुके थे, तब रिपोर्ट रिजल्ट को क्रॉस चेक किया जा रहा था तब पता चला कि पायलट कोरोना पॉजिटिव था। लेकिन इस मामले को छिपाने की जगह एयर इंडिआ ने सीधा पायलट से संपर्क किया और वापस आने को कहा। अबतक वंदेभारत मिशन के तहत सैंकड़ों फ्लाइट उड़ाई जा चुकी हैं। हर फ्लाइट से पहले क्रू का कोरोना टेस्ट होता है। एयर इंडिया के कर्मचारी इस मुश्किल वक्त में भी देश के लिए आगे आकर काम कर रहे हैं। एयर इंडिया के हाल खराब हैं, क्रू को मार्च से अबतक फ्लाइंग अलाउंस नहीं मिला है, यह कुल सैलरी का 70 प्रतिशत होता है। बावजूद इसके स्टाफ काम कर रहा।

पढ़ें :- गूगल की Gmail यूर्जस को चेतावनी, शर्तें और नियम ना मानने पर बन्द हो जाएंगी ये सुविधायें

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...