1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. पितृ पक्ष 2021:पितरों की सद्गति के लिए पिण्डदान में तिल का क्या महत्व है, जानिए इसका धार्मिक पक्ष्

पितृ पक्ष 2021:पितरों की सद्गति के लिए पिण्डदान में तिल का क्या महत्व है, जानिए इसका धार्मिक पक्ष्

पितृपक्ष के दौरान पितरों की सद्गति के लिए पिण्डदान और तर्पण के लिए काले तिल और कुश का उपयोग किया जाता है। तिल और कुश दोनों ही भगवान विष्णु के शरीर से निकले हैं और पितरों को भी भगवान विष्णु का ही स्वरूप माना गया है।

By अनूप कुमार 
Updated Date

पितृ पक्ष 2021: पितृपक्ष के दौरान पितरों की सद्गति के लिए पिण्डदान और तर्पण के लिए काले तिल और कुश का उपयोग किया जाता है। तिल और कुश दोनों ही भगवान विष्णु के शरीर से निकले हैं और पितरों को भी भगवान विष्णु का ही स्वरूप माना गया है।

पढ़ें :- जिवितपुत्रिका व्रत 2021: जानिए क्या करें और क्या न करें व्रत का पालन करते समय आपको क्या ध्यान रखना चाहिए
Jai Ho India App Panchang

धार्मिक दृष्टि से तो तिल खास है ही इनका आयुर्वेदिक और वैज्ञानिक महत्व भी है। काले और सफेद दोनों तरह के तिल का उपयोग पूजा-पाठ, व्रत और औषधि के तौर पर किया जाता है।पुराणों में तिल विष्णु, पद्म और ब्रह्मांड पुराण में तिल को औषधि बताया गया है।

बृहन्नारदीय पुराण में कहा गया है कि पितृकर्म में जितने तिलों का उपयोग होता है उतने ही हजार सालों तक पितर स्वर्ग में रहते हैं।

पद्म और वायु पुराण के मुताबिक श्राद्ध कर्म में काले तिलों का उपयोग करने से पितृ प्रसन्न होते हैं। वहीं गरुड़ पुराण और बृहन्नारदीय पुराण का कहना है कि जिन पूर्वजों की मृत्यु अचानक या किसी दुर्घटना में हुई हो उनके लिए तिल और गंगाजल से तर्पण किया जाए तो मुक्ति मिलती है।

 बीमारियों से लड़ने की ताकत
आयुर्वेद में भी तिल का बड़ा महत्व है। आयुर्वेद के अनुसार तिल मिले पानी से नहाने और तिल के तेल से मालिश करने से हडि्डयां मजबूत होती हैं। स्कीन में चमक आती है और मसल्स भी मजबूत होते हैं। तिल वाला पानी पीने से कई बीमारियां दूर होती हैं। इसके अलावा तिल पर हुई एक रिसर्च में बताया गया है कि काले तिल में एंटीऑक्सीडेंट होता है। जिससे शरीर में नई कोशिकाएं और ऊतक बनने लगते हैं।

पढ़ें :- गज लक्ष्मी व्रत 2021: कमल के आसन पर विराजमान होतीं हैं मां, इस स्वरूप विधि-विधान से किया जाता है पूजन

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...