सीबीआई डायरेक्टर राकेश अस्थाना के खिलाफ प्रशांत भूषण की याचिका खारिज

सीबीआई डायरेक्टर राकेश अस्थाना के खिलाफ प्रशांत भूषण की याचिका खारिज

नई दिल्ली। गुजरात कैडर के आईपीए अधिकारी राकेश अस्थाना की सीबीआई के स्पेशल डायरेक्टर के पद पर हुई नियुक्ति के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में दाखिल याचिका को अदालत ने खारिज कर दिया है। यह याचिका जाने माने वकील प्रशांत भूषण ने कॉमन कॉज नाम की एक समाजसेवी संस्था की ओर दाखिल की थी। जिसमें राकेश अस्थाना पर आयकर विभाग की जांच का सामना कर रही स्टर्लिंग बायोटेक लिमिटेड से संबन्ध रखने के आरोप है।

इस याचिका में स्टर्लिंग बायोटेक लिमिटेड के ठिकानों पर हुई आयकर विभाग की छापेमारी में मिली एक डायरी का हवाला दिया गया था। जिसमें राकेश अस्थाना का नाम लिखे हुआ था।

{ यह भी पढ़ें:- यूपीपीएससी के आधार पर हुई भर्तियों की जांच करेगी सीबीआई }

इस याचिका के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में केन्द्र सरकार ने 24 नवंबर को अपना पक्ष रखते हुए कहा था कि 56 वर्षीय राकेश अस्थाना जो कि गुजरात कैडर के आईपीएस अधिकारी है ने अपने अब तक के करियर में 40 बड़े हाईप्रोफाइल मामलों की जांच में अहम भूमिका निभाई है। कोयला घोटाला, अगस्टा वेस्टलैंड घोटाला, किंगफिशर एयरलाइंस, ब्लैकमनी और मनी लांड्रिंग के कई मामलों में उन्होंने जिस तरह से अपनी क्षमता को साबित किया उसी के आधार पर उन्हें यह नियुक्ति दी गई है।

उनके खिलाफ दाखिल की गई याचिका में एक डायरी में किसी का नाम दर्ज होने मात्र से यह आरोप साबित नहीं हो सकता कि​ किसी अधिकारी के किसी कारोबारी से उसके संबन्ध हैं। इस आधार पर अस्थाना पर सन्देह जताना तब तक जायज नहीं है जब तक यह साबित न हो सके कि उनका स्टेरलिंग कंपनी के साथ किस तरह का लेन देन था और उनका नाम किस वजह से उस डायरी तक पहुंचा था।

{ यह भी पढ़ें:- बिहार: सृजन घोटाले के दो और मामले में CBI ने दाखिल की चार्जशीट }

Loading...