SSB जवानों की कलाइयों पर राखी बांधकर देश की रक्षा का वचन लिया -पूर्व चेयरमैन नायला खान

IMG-20190814-WA0044-768x702

महराजगंज: भारत नेपाल सीमा नौतनवा के दुमुहना घाट पर तैनात एसएसबी के 66 बटालियन हेड क्वार्टर पर रक्षाबंधन से एक दिन पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष गुड्डू खान की पत्नी पूर्व चेयरमैन व समाजसेविका नायला खान ने अपने साथियों के साथ एसएसबी जवानों की कलाइयों में राखी बांधकर उन्हें अपना भाई बनाया और जवानों से देश की रक्षा का वचन लिया।

Pledged To Protect The Country By Tying A Rakhi On The Wrists Of Ssb Jawans Former Chairman Nayla Khan :

इस मौके पर नायला खान ने कहा कि हमारे सैनिक भाई अपने परिवार से दूर भारत मां की रक्षा के लिए सीमा पर मुस्तैद होकर दिन-रात देश की सेवा करते हैं। बहन भाई के इस पवित्र पर्व पर अपनी बहनों की कमी ना खले। उन्हें इसका अहसास कराना था।

कार्यक्रम के दौरान एसएसबी के प्रभारी कमांडेंट वरजीत सिंह ने कहा कि आज के दिन बहनों ने भाई होने का जो एहसास हमे दिलाया है उसे हम कभी नही भूल पाएंगे।

ऐसे प्यार और दुलार की जरूरत हर उस जवान को है जो अपना परिवार छोड़ मुस्तैदी से सीमा की सुरक्षा में लगा रहता है।

इस अवसर पर संतोष पण्डित, गुरमीत सिंह, कुलदीप राज, दीपक, महेश, बलकार सिंह, सुरजीत कुमार, जसदेव सैनी, हीरा सिंह, लिज़ी ब्वाएड, किसमती देवी, राजेश ब्वाएड, सत्यप्रकाश आदि लोग उपस्थित रहे।

रिपोर्ट-विजय चौरसिया

महराजगंज: भारत नेपाल सीमा नौतनवा के दुमुहना घाट पर तैनात एसएसबी के 66 बटालियन हेड क्वार्टर पर रक्षाबंधन से एक दिन पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष गुड्डू खान की पत्नी पूर्व चेयरमैन व समाजसेविका नायला खान ने अपने साथियों के साथ एसएसबी जवानों की कलाइयों में राखी बांधकर उन्हें अपना भाई बनाया और जवानों से देश की रक्षा का वचन लिया। इस मौके पर नायला खान ने कहा कि हमारे सैनिक भाई अपने परिवार से दूर भारत मां की रक्षा के लिए सीमा पर मुस्तैद होकर दिन-रात देश की सेवा करते हैं। बहन भाई के इस पवित्र पर्व पर अपनी बहनों की कमी ना खले। उन्हें इसका अहसास कराना था। कार्यक्रम के दौरान एसएसबी के प्रभारी कमांडेंट वरजीत सिंह ने कहा कि आज के दिन बहनों ने भाई होने का जो एहसास हमे दिलाया है उसे हम कभी नही भूल पाएंगे। ऐसे प्यार और दुलार की जरूरत हर उस जवान को है जो अपना परिवार छोड़ मुस्तैदी से सीमा की सुरक्षा में लगा रहता है। इस अवसर पर संतोष पण्डित, गुरमीत सिंह, कुलदीप राज, दीपक, महेश, बलकार सिंह, सुरजीत कुमार, जसदेव सैनी, हीरा सिंह, लिज़ी ब्वाएड, किसमती देवी, राजेश ब्वाएड, सत्यप्रकाश आदि लोग उपस्थित रहे। रिपोर्ट-विजय चौरसिया