PM MODI BIRTHDAY: इस वजह से युवावस्था में पीएम मोदी देखते थे फिल्में, ये हैं उनके पसंदीदा गाने

pm modi birthday
PM MODI BIRTHDAY: इस वजह से युवावस्था में पीएम मोदी देखते थे फिल्में, ये हैं उनके पसंदीदा गाने

लखनऊ। दुनियाभर में सबसे ज़्यादा दौरा करने वाले देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार 17 सितंबर को अपना 69वां जन्मदिन मनाएंगे। इस अवसर पर पीएम मोदी गुजरात के सरदार सरोवर बांध का दौरा कर वहां पूजा-अर्चना करेंगे। पीएम मोदी को राजनीति, फोटोग्राफी के अलावा मनोरंजन की दुनिया में फिल्में देखेने और गाना सुनने के बेहद शौकीन है। आज हम उनकी मनोरंजन की दुनिया से जुड़ी कुछ बातें बताने जा रहें हैं। आइये जानते हैं क्या है वो खास बातें….

Pm Modi Birthday Because Of This Pm Modi Used To Watch Movies In His Youth These Are His Favorite Songs :

एक इंटरव्यू के दौरान जब पीएम मोदी से उनकी पसंदीदा फिल्मों के बारें में पूछा गया तो उन्होंने कहा, “मैं आमतौर पर फिल्मों का ज्यादा शौकीन नहीं हूं। लेकिन मैं जब युवावस्था में था तब फिल्में देखता था और वो भी इस उम्र में होने वाली जिज्ञासा के चलते। तब भी मेरा यह स्वभाव नहीं था कि फिल्में केवल मनोरंजन के लिए देखी जाएं। इसके बजाय मेरी आदत थी कि इन फिल्मों की कहानियों में बताए जाने वाले जिंदगी के सबक को खोजा जाए।”

पीएम मोदी आगे बताते हुए कहते हैं कि, “मुझे एक घटना याद आती है। एक बार मैं अपने कुछ शिक्षकों और मित्रों के साथ आरके नारायण के उपन्यास पर आधारित मशहूर हिंदी फिल्मी गाइड देखने पहुंचा। फिल्म देखने के बाद मेरे मित्रों के साथ गंभीर बहस छिड़ गई। मेरा तर्क था कि फिल्म का मूल विचार यह था कि अंत में हर एक व्यक्ति अपनी अंतरात्मा की आवाज सुनता है। लेकिन उस वक्त मैं काफी युवा था, मेरे मित्रों ने मुझे गंभीरता से नहीं लिया।”

जब उनसे उनकी आखिरी फिल्म देखने के बारें में पूछा गया तो उन्होंने बताया, “जब मैं गुजरात का मुख्यमंत्री था तब अमिताभ बच्चन ने मुझसे अनुरोध किया था कि उनकी फिल्म ‘पा’ देखूं। अनुपम खेर की आतंकवाद पर एक फिल्म थी ‘अ वेडनेसडे’, एक बार मुझे इसको देखने का मौका मिला था। अब मुझे वक्त नहीं मिलता।

वहीं, पीएम मोदी से जब उनके पसंदीदा गाने के बारें में पूछता है तो वह झट से जवाब देते हैं, “हो पवन वेग से उड़ने वाले घोड़े…, यह 1961 में आई फिल्म ‘जय चित्तौड़’ का गाना है जिसे लता मंगेशकर जी ने शानदार ढंग से गाया है।” इसके अलावा पीएम मोदी को एसएन त्रिपाठी की बेहतरीन धुन पर रचे भारत व्यास के प्रेरणादायी गीत की लाइनें बहुत पसंद हैं, जो कि ये है, “तेरे कंधों पे आज भार है मेवाड़ का, करना पड़ेगा तुझे सामना पहाड़ का, हल्दीघाटी नहीं है काम कोई खिलवाड़ का, देना जवाब वहां शेरों के दहाड़ का।”

लखनऊ। दुनियाभर में सबसे ज़्यादा दौरा करने वाले देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार 17 सितंबर को अपना 69वां जन्मदिन मनाएंगे। इस अवसर पर पीएम मोदी गुजरात के सरदार सरोवर बांध का दौरा कर वहां पूजा-अर्चना करेंगे। पीएम मोदी को राजनीति, फोटोग्राफी के अलावा मनोरंजन की दुनिया में फिल्में देखेने और गाना सुनने के बेहद शौकीन है। आज हम उनकी मनोरंजन की दुनिया से जुड़ी कुछ बातें बताने जा रहें हैं। आइये जानते हैं क्या है वो खास बातें.... एक इंटरव्यू के दौरान जब पीएम मोदी से उनकी पसंदीदा फिल्मों के बारें में पूछा गया तो उन्होंने कहा, "मैं आमतौर पर फिल्मों का ज्यादा शौकीन नहीं हूं। लेकिन मैं जब युवावस्था में था तब फिल्में देखता था और वो भी इस उम्र में होने वाली जिज्ञासा के चलते। तब भी मेरा यह स्वभाव नहीं था कि फिल्में केवल मनोरंजन के लिए देखी जाएं। इसके बजाय मेरी आदत थी कि इन फिल्मों की कहानियों में बताए जाने वाले जिंदगी के सबक को खोजा जाए।" पीएम मोदी आगे बताते हुए कहते हैं कि, "मुझे एक घटना याद आती है। एक बार मैं अपने कुछ शिक्षकों और मित्रों के साथ आरके नारायण के उपन्यास पर आधारित मशहूर हिंदी फिल्मी गाइड देखने पहुंचा। फिल्म देखने के बाद मेरे मित्रों के साथ गंभीर बहस छिड़ गई। मेरा तर्क था कि फिल्म का मूल विचार यह था कि अंत में हर एक व्यक्ति अपनी अंतरात्मा की आवाज सुनता है। लेकिन उस वक्त मैं काफी युवा था, मेरे मित्रों ने मुझे गंभीरता से नहीं लिया।" जब उनसे उनकी आखिरी फिल्म देखने के बारें में पूछा गया तो उन्होंने बताया, "जब मैं गुजरात का मुख्यमंत्री था तब अमिताभ बच्चन ने मुझसे अनुरोध किया था कि उनकी फिल्म 'पा' देखूं। अनुपम खेर की आतंकवाद पर एक फिल्म थी 'अ वेडनेसडे', एक बार मुझे इसको देखने का मौका मिला था। अब मुझे वक्त नहीं मिलता। वहीं, पीएम मोदी से जब उनके पसंदीदा गाने के बारें में पूछता है तो वह झट से जवाब देते हैं, "हो पवन वेग से उड़ने वाले घोड़े..., यह 1961 में आई फिल्म 'जय चित्तौड़' का गाना है जिसे लता मंगेशकर जी ने शानदार ढंग से गाया है।" इसके अलावा पीएम मोदी को एसएन त्रिपाठी की बेहतरीन धुन पर रचे भारत व्यास के प्रेरणादायी गीत की लाइनें बहुत पसंद हैं, जो कि ये है, "तेरे कंधों पे आज भार है मेवाड़ का, करना पड़ेगा तुझे सामना पहाड़ का, हल्दीघाटी नहीं है काम कोई खिलवाड़ का, देना जवाब वहां शेरों के दहाड़ का।"