1. हिन्दी समाचार
  2. आयुष्मान भारत के लाभार्थियों का आंकड़ा 1 करोड़ के पार, PM मोदी ने दी बधाई

आयुष्मान भारत के लाभार्थियों का आंकड़ा 1 करोड़ के पार, PM मोदी ने दी बधाई

Pm Modi Congratulates Ayushman Indias Beneficiaries Crosses Rs 1 Crore

By रवि तिवारी 
Updated Date

कोरोना (Corona) संकट के बीच भी केंद्र सरकार की अपनी योजनाओं के जरिए गरीबों की मदद कर रही है. मोदी सरकार (Modi Government) की आयुष्मान भारत योजना के जरिए अब तक 1 करोड़ गरीबों को लाभ मिला है. इस बात की जानकारी खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने सोशल मीडिया पर दी है. आपको बता दें कि आयुष्मान भारत योजना (Ayushman Bharat Yojna) के तहत देश के गरीबों को बेहतर इलाज के लिए आर्थिक मदद दी जाती है. इस स्कीम के तहत गरीबों को 5 लाख रुपए तक के मुफ्त इलाज की गारंटी दी जाती है.

पढ़ें :- 16 जनवरी 2021 का राशिफल: इस राशि के जातकों को मिलने वाला है रुका हुआ धन, जानिए अपनी राशि का हाल

पीएम मोदी ने ट्वीट में लिखा- ‘यह हर भारतीय को जानकर गर्व होगा कि आयुष्मान भारत के लाभार्थियों की संख्या 1 करोड़ को पार कर गई है. दो साल से भी कम समय में इस पहल का इतने लोगों पर सकारात्मक प्रभाव पड़ा है. मैं सभी लाभार्थियों और उनके परिवारों को बधाई देता हूं. मैं उनके अच्छे स्वास्थ्य के लिए भी प्रार्थना करता हूं.’

पढ़ें :- महराजगंज:जनता ने मौका दिया तो क्षेत्र का होगा समग्र विकास: रवींद्र जैन

उन्होंने आगे लिखा- ‘मैं हमारे डॉक्टरों, नर्सों, स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं और आयुष्मान भारत से जुड़े सभी लोगों की सराहना करता हूं. उनके प्रयासों ने इसे दुनिया का सबसे बड़ा स्वास्थ्य सेवा कार्यक्रम बना दिया है. इस योजना ने कई भारतीयों, विशेष रूप से गरीबों और दलितों का विश्वास जीता है.

पीएम मोदी ने आगे लिखते हैं, ‘आयुष्मान भारत का सबसे बड़ा लाभ पोर्टेबिलिटी है. लाभार्थी न केवल जहां वे पंजीकृत हैं, बल्कि भारत के अन्य हिस्सों में भी अच्छी और सस्ती चिकित्सा सेवा प्राप्त कर सकते हैं. यह उन लोगों की मदद करता है जो घर से दूर काम करते हैं.’

पढ़ें :- GOLD RATE: लगातार दूसरे दिन आई सोने चांदी की कीमतों में बड़ी गिरावट, जानिए आज का भाव

पीएम मोदी ने कहा कि वह अपनी यात्राओं के दौरान इस योजना का लाभ पाने लोगों से बातचीत करेंगे. पीएम मोदी ने लिखा, ‘अपनी आधिकारिक यात्राओं के दौरान, मैं आयुष्मान भारत के लाभार्थियों के साथ बातचीत करूंगा. अफसोस की बात है कि इन दिनों यह संभव नहीं है, लेकिन मेघालय की पूजा थापा, जो कि 1 करोड़ लाभार्थियों में से एक हैं, के साथ मेरी शानदार टेलीफोन पर बातचीत हुई.’

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...