पीएम मोदी की होर्डिंग पर कांग्रेसियों ने पोती कालिख, मामला दर्ज

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के संभल में नोटबंदी का विरोध कर रहे कांग्रेसी कार्यकर्ताओं के खिलाफ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की होर्डिंग पर कालिख पोतने का मामला दर्ज करवाया गया है। मामला दर्ज करवाने वाले बीजेपी कार्यकर्ताओं का आरोप है कि संप्रदाय विशेष से आने वाले कांग्रेस पार्टी के कुछ कार्यकर्ताओं ने एक पैट्रोल पंप पर लगी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की होर्डिंग पर कालिख पोत कर धार्मिक भावनाओं को आहत करने का काम किया है। पुलिस ने बीजेपी कार्यकर्ताओं की शिकायत पर मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।




मिली जानकारी के ​मुताबिक बुधवार को भी संभल के पिछले कुछ दिनों की तरह ही यूनियन बैंक के बाहर नोट बदलवाने वाले लोगों की भीड़ थी। दोपहर के समय बैंक ने अधिकारियों द्वारा जैसे ही कैश खत्म होने की बात कही गई वैसे ही अपनी बारी आने के इंतजार में खड़े थे लोग भड़क गए। इसी दौरान शहर कांग्रेस के अध्यक्ष तौकीर अहमद वहां पहुंच गए और लोगों को भड़काने लगे। लोगों ने तौकीर के इशारे पर नारेबाजी की तो उसके साथ आए कुछ कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने पास के पैट्रोल पंप पर लगी होर्डिंग पर मौजूद प्रधानमंत्री की फोटो पर कालिख पोत दी।

इस घटना की जानकारी जैसे ही स्थानीय बीजेपी कार्यकर्ताओं को मिली तो वे भड़क गए और घटना स्थल पर जा पहुंचे। मौके पर बीजेपी कार्यकर्ताओं के आने की खबर मिलते ही कांग्रेसी कार्यकर्ता फरार हो गए। इसी बीच संभल पुलिस को यूनियन बैंक पर हंगामा होने की खबर मिलने पर पहुंच गई।

जिसके बाद पुलिस ने बीजेपी कार्यकर्ताओं को समझा बुझाकर मामले को शांत करवाया और उनकी शिकायत पर मामला दर्ज कर दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का आश्वासन देकर हंगामा न करने की नसीहत दी।



संभल कोतवाली के प्रभारी सुरेन्द्र सिंह का कहना है कि बीजेपी के जिलाध्यक्ष राजेश सिंघल की शिकायत पर कांग्रेस के शहर अध्यक्ष तौकीर अहमद और उनके 8 समर्थकों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है। पुलिस शिकायत के आधार पर छानबीन कर रही है। दो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।