नेपाल के प्रधानमंत्री से पीएम मोदी की मुलाकात, 8 समझौतों पर हुए हस्ताक्षर

नेपाल के प्रधानमंत्री से पीएम मोदी की मुलाकात, 8 समझौतों पर हुए हस्ताक्षर

नई दिल्ली। भारत दौरे पर आए नेपाल के नवनिर्वाचित प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के बीच गुरुवार को आधिकारिक मुलाकात हुई। इस मुलाकात के दौरान दोनों देशों के बीच आठ समझौतोंं पर हस्ताक्षर किए गए हैं। नेपाल के प्रधानमंत्री के इस दौरे को भारत और चीन के बीच डोकलाम सीमाविवाद को लेकर बने तनाव के नजरिए से भी बेहद अहम माना जा रहा है। देउबा का दौरे से ठीक पहले चीन के वाइस प्रीमियर ने नेपाल का दौरा किया था।

नेपाल के प्रधानमंत्री से मुलाकात के बाद मीडिया से मुखातिब हुए पीएम मोदी ने कहा कि नेपाल के साथ भारत के पुराने और मजबूत रिश्तों को प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा के दौरे से नई ताकत मिलेगी। दोनों देश परस्पर सहयोग से विकास के रास्ते पर आगे बढ़ने के लिए प्रयासरत हैं। बिजली, पानी और व्यापार के क्षेत्र में दोनों देशों के बीच तेजी आएगी। पीएम मोदी ने अरुण 3 हाईड्रो पॉवर परियोजना में आड़े आ रहे जमीन विवाद को दूर करने के लिए देउबा को धन्यवाद दिया।

{ यह भी पढ़ें:- जेल में सब्जियां उगा रहा 'बलात्कारी बाबा', 20 रुपये मिलती है दिहाड़ी }

प्रधानमंत्री देउबा ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को अरुण 3 के उद्घटन के लिए न्यौता देते हुए जानकारी दी थी कि नेपाल सरकार ने अरुण 3 हाईपॉवर प्रोजेक्ट के लिए जमीन उपलब्ध करवाने की प्रक्रिया में आ रही परेशानियों को दूर कर लिया है। अरुण 3 भारत सरकार की ओर से नेपाल में बनाई जा रही 900 मेगावाट बिजली उत्पादन क्षमता वाली हाईड्रो पॉवर परियोजना है। जिसे फरवरी 2017 में भारत सरकार ने 5700 करोड़ से ज्यादा की लागत वाली इस योजना को पास किया था।

विदेशी मामलों के जानकारों की माने तो नेपाली प्रधानमंत्री का भारत दौरा बेहद अहम है। बतौर प्रधानमंत्री अपने नए कार्यकाल में प्रधानमंत्री देउबा की यह पहली विदेश यात्रा है, जिसके लिए उनका भारत आना साबित करता है कि नेपाल भले ही चीन के साथ अपने कारोबारी संबन्धों को मजबूती दे रहा हो लेकिन भारत के प्रति भी उसका नजरिया स्पष्ट है। जिस तरह से देउबा ने अरुण 3 परियोजना के आड़े आ रहे जमीन विवाद को निपटाने की खबर दी यह इस बात का सुबूत है कि नेपाल अपनी तरक्की को भारत की तरक्की के साथ जोड़कर देखता है। नेपाल और भारत का सांस्कृतिक जुड़ाव दोनों देशों के बीच के कूट​नीतिक संबन्धों की नींव है।

{ यह भी पढ़ें:- कमेंटेटर ने कहा कि इस आॅस्ट्रेलियाई क्रिकेटर का बनाओ आधार कार्ड }

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री देउबा का यह पहला भारत दौरा नहीं है इससे पूर्व भी वह तीन बार भारत के दौरे पर आ चुके हैं। अपने पांच दिवसीय दौरे पर आए देउबा भारत के कई मंदिरों में जाने का कार्यक्रम भी तय है।