कांग्रेस के कमाल के नेता हैं, मणिपुर में निकालेंगे नारियल का जूस: नरेंद्र मोदी

कुशीनगर: छठवें चरण के चुनाव प्रचार के कुशीनगर पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण की शुरूआत भारत माता की जय के नारों के साथ की। उन्होंने कहा कि यूपी की जनता 15 साल का गुस्सा निकाल रही है। उन्होंने कहा कि जैसे इंद्रधनुष में सात रंग होते हैं, वैसे ही इस बार यूपी चुनाव में सात चरण हैं। उन्होंने कहा कि यूपी सरकार की आधिकारिक वेबसाइट में लिखा है कि यूपी में जिंदगी बहुत छोटी होती है। कब मर जाएं कोई भरोसा नहीं। यह अखिलेश सरकार की अधिकृत वेबसाइट पर लिखा है।




उन्होंने कहा कि यह चुनाव गरीबों के हक, भाई-भतीजेवाद से मुक्ति, अपने पराए से भेद मुक्ति का चुनाव है। अखिलेश यादव छह महीने से बोल रहे हैं कि काम बोल रहा है। लेकिन मैं पूछना चाहता हूं कि क्या काम बोल रहा है, या कारनामें बोल रहे हैं। नरेंद्र मोदी ने राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा। कभी वो कहते हैं उत्तर प्रदेश में आलू की फैक्ट्री, इनसे आपको कौन बचाएगा। एक नेता हैं कांग्रेस के कमाल के नेता हैं, मणिपुर में कहा कि वो मणिपुर में नारियल का जूस निकालेंगे और उसे लंदन में बेचेंगे, कभी नारियल का जूस होता है क्या, नारियल केरल में होता है। अगर दोनों गले मिल गए तो यूपी को और बेहाल करेंगे, एक ने देश को बेहाल किया दूसरे ने उत्तर प्रदेश को दोनों मिल गए तो क्या हाल होगा।

अभी तक कह रहे थे 27 साल यूपी बेहाल, अब बेहाल कहने वाले और करने वाले दोनों गले मिल गए। अखिलेश जी अाप अवैध खनन को रोकने में असफल रहे हैं।मैं देशवासियों का अभिनंदन करता हूं कि राजनीति के खेल करने वालों को आपने करारा जवाब दिया है। हिंदुस्तान दुनिया की सबसे ज्यादा आर्थिक विकास करने वाला देश बन गया है। सभी आकड़े वहीं से आए जहां से आज तक सरकारों के आंकड़े आते रहे हैं। कल जो आंकड़े आए हैं तो अब वो कह रहे हैं कि आंकड़े कहां से आए, ये सवाल उठा रहे हैं कि सच है या झूठ है।




यूपी सरकार की वेबसाइट पर लिखा है, यूपी की हालत अफ्रीका के सहारा मरुभूमि की तरह है। उनकी अपनी वेबसाइट कह रही है कि उत्तर प्रदेश में जीवन की अवधि कम है। अखिलेश बोल रहे हैं ‘काम बोल रहा है’, और उनकी सरकार की वेबसाइट बोल रही है ‘कारनामे बोल रहे हैं’। ये चुनाव गरीबों के हक,अपराध से मुक्ति,शोषण से मुक्ति और भेदभाव दूर करने का है। इस चुनाव के बाद नया यूपी बनाना ही भाजपा का सपना है।

यूपी चुनाव में 5 चरण का मतदान हो चुका है। यहां की जनता 15 सालों का गुस्सा निकाल रही है। चुनावों में सभी राजनीतिक दल अपनी सरकार की उपलब्धियों के बारे में बता रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केंद्र सरकार की उपलब्धिय़ों को गिना रहे हैं और अखिलेश सरकार को आड़े हाथों ले रहे हैं। वहीं मायावती केंद्र और राज्य सरकार दोनों के खिलाफ मोर्चा खोले हुए हैं। उत्तर प्रदेश में अभी दो चरणों के चुनाव बाकी हैं छठे चरण की वोटिंग 4 मार्च को और 7वें चरण की वोटिंग 8 मार्च को होगी। विधानसभा चुनावों के परिणाम 11 मार्च को आएंगे।

Loading...