डॉ. अंबेडकर राष्ट्रीय मेमोरियल का लोकार्पण करने के लिए मैट्रो से पहुंचे पीएम मोदी

Dr. Ambedkar National Memorial
नई दिल्ली। संविधान के निर्माता डॉ. भीमराव अंबेडकर की जयंती की पूर्व संध्या पर शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने डॉ. अंबेडकर राष्ट्रीय मेमोरियल का लोकापर्ण किया। इस कार्यक्रम के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लोक कल्याण मार्ग स्टेशन से मैट्रो लेकर मेमोरियल के निकटतम स्टेशन 26 अलीपुर रोड़ तक का सफर तय किया। इस मैट्रो यात्रा के दौरान वह मैट्रो यात्रियों के साथ सेल्फी खिंचवाते और बातचीत करते नजर आए। इस मेमोरियल के भवन को संविधान के प्रतीक के…

नई दिल्ली। संविधान के निर्माता डॉ. भीमराव अंबेडकर की जयंती की पूर्व संध्या पर शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने डॉ. अंबेडकर राष्ट्रीय मेमोरियल का लोकापर्ण किया। इस कार्यक्रम के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लोक कल्याण मार्ग स्टेशन से मैट्रो लेकर मेमोरियल के निकटतम स्टेशन 26 अलीपुर रोड़ तक का सफर तय किया। इस मैट्रो यात्रा के दौरान वह मैट्रो यात्रियों के साथ सेल्फी खिंचवाते और बातचीत करते नजर आए।

इस मेमोरियल के भवन को संविधान के प्रतीक के रूप में एक पुस्तक का आकार दिया गया है। जिसे तैयार करने में 100 करोड़ की लागत आई है। मेमोरियल के भीतर एक म्यूजियम बनाया गया है, जिसमें आॅडियो, चित्रों, वीडियो और अन्य मल्टीमीडिया माध्यमों से संविधान निर्माण के ​इतिहास को पेश किया गया है।

{ यह भी पढ़ें:- कैश संकट पर राहुल का बयान, बोले- मोदीजी ने बैंकिंग प्रणाली को बर्बाद कर दिया }

संविधान ​लिखने वाली कमिटी के चेयरमैन रहे डॉ. भीमराव अंबेडकर की यादगार में बने इस भवन का शिलान्यास 21 मार्च 2016 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया था। ​इस म्यूजियम में डॉ. अंबेडकर के जीवन चक्र को भी म्यूजियम के माध्यम से दिखाया गया है। डॉ. अंबेडकर की बौद्ध धर्म के प्रति आस्था को देखते हुए एक बोधी वृक्ष भी इस मेमोरियल भवन में लगाया गया है। इसके अलावा म्यूजिकल फाउंटेन, और रंगीन रोशनियों जैसे साधनों से इस भवन की सजावट की गई है। भवन के एक हिस्से में ध्यान कक्ष भी बनाया गया है।

आपको बता दें कि डॉ. अंबेडकर को दलितों के प्रेरणाश्रोत और उनके उत्थान के लिए सबसे अहम प्रयास करने वाले महापु​रुष के रूप में देखा जाता है। पूरे भारत वर्ष के दलित और शोषित समाज के लोगों के लिए डॉ. अंबेडकर एक आस्था का केन्द्र रहे हैं। इसीलिए पूरे देश में डॉ. अंबेडकर की जयंती को बड़े धूमधाम से मानया जाता है।

{ यह भी पढ़ें:- कांग्रेस अध्यक्ष राहुल ने अमेठी में पीएम मोदी पर तीखा हमला बोला, कहा.. }

Loading...