1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. पीएम मोदी बोले- विपक्ष के नकारात्मक प्रचार से दुखी, देश में वैक्सीन कोई कमी नहीं

पीएम मोदी बोले- विपक्ष के नकारात्मक प्रचार से दुखी, देश में वैक्सीन कोई कमी नहीं

बीजेपी संसदीय दल की बैठक को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि संसद में कांग्रेस जिस तरह का व्‍यवहार अपना रही है वह दुर्भाग्‍यपूर्ण है। कांग्रेस मानसून सत्र में जान बूझकर नकारात्‍मक माहौल बनाने की कोशिश कर रही है, जबकि देश में वैक्‍सीन की कोई कमी नहीं है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। बीजेपी संसदीय दल की बैठक को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि संसद में कांग्रेस जिस तरह का व्‍यवहार अपना रही है वह दुर्भाग्‍यपूर्ण है। कांग्रेस मानसून सत्र में जान बूझकर नकारात्‍मक माहौल बनाने की कोशिश कर रही है, जबकि देश में वैक्‍सीन की कोई कमी नहीं है। विपक्ष के हंगामे के बीच लोकसभा की 2 बजे तक व राज्यसभा की कार्यवाही 12 बजे स्थगित तक स्थगित कर दी गई है।

पढ़ें :- Japan News : शिंजो आबे के राजकीय अंतिम संस्कार में शामिल हुए प्रधानमंत्री मोदी, 100 से अधिक देशों के नेता मौजूद

पीएम मोदी ने बीजेपी के सांसदों से कहा कि वे कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के बीच जमीनी स्तर पर ज्यादा से ज्यादा काम करें। इस दौरान पीएम ने कहा कि कांग्रेस हर जगह खत्म हो रही है, लेकिन उसको अपनी नहीं बल्कि बीजेपी की ज्यादा चिंता है। पीएम मोदी ने कहा कि ‘असम, केरल और बंगाल में हार गए, फिर भी कांग्रेस की नींद नहीं खुली। उन्हें अपनी नहीं, हमारी चिंता ज्यादा है। पीएम मोदी ने सभी सांसदों से यह भी कहा कि वे कोरोना की तीसरी लहर के लिए तैयार रहें और अपने-अपने क्षेत्रों में निर्बाध टीकाकरण की व्यवस्था सुनिश्चित करें। पीएम मोदी ने सांसदों से कहा कि वे जनता तक सरकार के कामों को पहुंचाए। उन्होंने कहा कि सत्य को बार-बार जनता तक पहुंचाइए और सरकार के काम के बारे में बताइए।

मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि हम पेगासस का मुद्दा उठाएंगे। कोई भी देश के विकास में बाधा नहीं डाल रहा है, यह बीजेपी है जिन्होंने इसे बाधित किया है। उन्होंने उपकर लगाकर, ईंधन की कीमत में बढ़ोत्तरी, परियोजनाओं पर पैसा बर्बाद करके लाखों और करोड़ों रुपये कमाए हैं।

मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि पहले चर्चा और फिर प्रेजेंटेशन। अगर वे पीएम मोदी कोविड पर एक प्रेजेंटेशन देना चाहते हैं, तो उन्हें इसे सेंट्रल हॉल में सांसदों और राज्यसभा सदस्यों को अलग-अलग देना चाहिए। सांसदों को अपने निर्वाचन क्षेत्रों में कोविड से संबंधित मुद्दों पर चर्चा करने की अनुमति दी जानी चाहिए।

शिरोमणि अकाली दल की नेता व पूर्व केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने कहा कि सरकार किसानों का अपमान कर रही है। जिस अन्नदाता ने सबका पेट भरा उसी की बात संसद में नहीं सुनी जा रही है। कांग्रेस पार्टी के सिद्धू हों या फिर कैप्‍टन किसी को भी किसान की फिक्र नहीं है। सब कुर्सी की लड़ाई लड़ रहे हैं. किसानों के मुद्दे को लेकर शिरोमणि अकालीदल खड़ा है।

पढ़ें :- कांग्रेस हाईकमान के रुख देख बदले विधायक, सचिन पायलट के सिर पर ताज सजना तय

बीएसपी नेता सतीश चंद्र मिश्रा ने कहा कि किसानों के मुद्दे को बीएसपी और अकाली दल ने दोनों सदनों में उठाया है। कांग्रेस पार्टी ने इसे पूरी तरह से नजरअंदाज कर दिया है। हमारे अन्नदाता को मजबूर किया जा रहा है। पांच सौ से ज्यादा लोग मर चुके हैं लेकिन उनके कान पर जूं नहीं रेंग रही है।

शिरोमणि अकाली दल के नेता सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि पिछले साल से किसान धरने पर बैठे हैं। ठंड, बारिश और गर्मी का सामना कर रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किसानों की बात सुने। पीएम मोदी ने जो जिद पकड़ी है, इससे किसानों का अपमान हो रहा है।

बीजेपी संसदीय दल की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि संसद में कांग्रेस जिस तरह का व्‍यवहार अपना रही है वह दुर्भाग्‍यपूर्ण है। कांग्रेस मानसून सत्र में जा-बूझकर नकारात्‍मक माहौल बनाने की कोशिश कर रही है, जबकि देश में वैक्‍सीन की कोई कमी नहीं है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...