1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. पीएम मोदी ने ट्रेनी अफसरों ने कहा-रूल और रोल का संतुलन जरूरी है, दिमाग में बाबू कभी मत आने ​दीजिए

पीएम मोदी ने ट्रेनी अफसरों ने कहा-रूल और रोल का संतुलन जरूरी है, दिमाग में बाबू कभी मत आने ​दीजिए

Pm Modi Said The Trainee Officers Balance Of Role And Role Is Important Never Let Babu Come To Mind

By शिव मौर्या 
Updated Date

अहमदाबाद। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो दिवसीय दौरे पर गुजरात में हैं। आज उनके दौरे का दूसरा दिन है। शनिवार को पीएम मोदी ने प्रोबेशनरी आईएएस अफसरों को संबोधित किया। इस दौरान पीएम ने कहा कि आज देश जिस मोड में काम कर रहा है, उसमें आप सभी ब्यूरोक्रेट्स की भूमिका मिनिमम गवर्नमेंट-मैक्सिमम गवर्नेंस की ही है।

पढ़ें :- हैदराबाद पहुंचे पीएम मोदी, भारत बायोटेक कोरोना वैक्सीन की तैयारियों की कर रहे हैं समीक्षा

पीएम ने अपने संबोधन में कहा कि आपको ये सुनिश्चित करना है कि नागरिकों के जीवन में आपका दखल कैसे कम हो, सामान्य मानवी का स​शाक्तिकरण कैसे हो। पीएम ने कहा कि रूल और रोल का संतुलन जरूरी है और दिमाग में बाबू कभी मत आने ​दीजिए। सरकार शीर्ष से नहीं चलती है।

नीतियां जिस जनता के लिए हैं, उनका समावेश बहुत जरूरी है। पीएम ने कहा कि जनता केवल सरकार की नीतियों की, प्रोग्राम्स की रिसीवर नहीं है, जनता जनार्दन ही असली ड्राइविंग फोर्स है। इसलिए हमें गवर्मेंट से गवर्नेंस की तरफ बढ़ने की जरूरत है।

पीएम ने कहा कि पहले के समय ट्रेनिंग में आधुनिक अप्रोच कैसे आए, इस बारे में बहुत सोचा नहीं गया लेकिन अब देश में Human Resource की आधुनिक ट्रेनिंग पर जोर दिया जा रहा है। आपने खुद भी देखा है कि कैसे बीते 2-3 वर्षों में ही सिविल सर्वेन्ट्स की ट्रेनिंग का स्वरूप बहुत बदल गया है।

 

पढ़ें :- गुजरात: कोविड अस्पताल में लगी भीषण आग, पांच की मौत, पीएम मोदी ने जताया दुख

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...