मोदी कैबिनेट में बड़े फेरबदल की संभावना, JDU और AIDMK बनेगी NDA का हिस्सा

मोदी कैबिनेट में बड़े फेरबदल की संभावना, JDU और AIDMK बनेगी NDA का हिस्सा

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने मंत्रिमंडल में बड़े फेरबदल के संकेत दे दिए हैं। नए मंत्रिमंडल से वर्तमान मंत्रियों की छुट्टी हो सकती है, जिनमें कलराज मिश्रा का नाम भी शामिल है। नए मंत्रिमंडल में शामिल होने वाले चेहरों में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के अलावा जदयू (JDU) और एआईडीएमके (AIDMK) के एक-एक सांसद को जगह मिलनी पक्की मानी जा रही।

मिली जानकारी के मुताबिक 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए तैयारी करते नजर आ रहे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एनडीए की ताकत बढ़ाने में जुटे हैं। जिसमें पहली सफलता जदयू और दूसरी सफलता के रूप में एआईडीएमके के साथ आने की बात तय हो चुकी है। इन दोनों दलों के वर्तमान सरकार में शामिल होने के साथ ही केन्द्रीय कैबिनेट में इन दलों की हिस्सेदारी को सुनिश्चित किया जाएगा। बताया जा रहा है कि जदयू और एआईडीएमके की ओर से एक—एक कैबिनेट मंत्री और दो—दो राज्यमंत्री पद दिए जाएंगे।

{ यह भी पढ़ें:- अरुण शौरी ने दागा ट्वीट प्रश्न, पूछा एक महीने से कौन चला रहा देश }

मोदी कैबिनेट के नए स्वरूप के बारे में हो रही चर्चा के बीच अमित शाह को रक्षा मंत्रालय मिलना तय बताया जा रहा है। वहीं कलराज मिश्रा को बिहार का राज्यपाल बनाने के साथ उनकी कुर्सी को बिहार से ही आने वाले किसी नए चेहरे को सौंपी जाने की बात भी तय है। इसके बाद उपराष्ट्रपति बन चुके वैंकेया नायडू के जाने से कैबिनेट की खाली हुई सीट को तमिलनाडु से आने वाले एआईडीएमके को जाती दिख रही है।

प्रमोशनों के बीच संगठन भी भेजे जाएगें मंत्री—

{ यह भी पढ़ें:- बीजेपी के इस दिग्गज सांसद ने दिया पार्टी से इस्तीफा, बोले- पीएम की नीतियों से खुश नहीं हूं }

2019 की लड़ाई को देखते हुए केन्द्र सरकार में होने वाले फेरबदलों में कई नेताओं का डिमोशन होने की बात सामने आ रही है। पार्टी सूत्रों की माने तो चार मंत्रियों को संगठन में भेजा सकता है। उनके स्थान पर पार्टी चार नए चेहरों को मंत्रिमंडल में एंट्री देना चाहती है। वहीं केन्द्रीय राज्य मंत्री मनोज सिन्हा की कार्यशैली से खुश नजर आ रहे प्रधानमंत्री उन्हें प्रमोट कर बड़ी और अहम जिम्मेदारी भी सौंप सकते हैं।

गणेश चतुर्थी के बाद होगा फेरबदल —

प्रधानमंत्री के कैबिनेट में फेरबदल की खबरें लंबे समय से सियासी गलियारों में तैर रहीं हैं। इससे पहले अनुमान लगाया गया था कि मानसून सत्र से पहले ही मोदी कैबिनेट में फेरबदल हो सकता है, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। लेकिन एनडीए के बढ़ते कुनबे और करीब आते 2019 के चुनावोें को ध्यान में रखते मोदी कैबिनेट में फेरबदल की संभावनाएं प्रबल हो चुकीं हैं। पार्टी के भीतर ऐसी चर्चा है कि गणेश चतुर्थी का पर्व आयोजन के साथ ही नए मंत्रिमंडल की तस्वीर स्पष्ट हो जाएगी।

{ यह भी पढ़ें:- मणिशंकर अय्यर के 'नीच' वाले बयान पर बोले पीएम मोदी- सभी गुजरातियों का अपमान किया }

Loading...