मोदी ने एनएसजी पर समर्थन के लिए ब्राजील को कहा ‘थैंक्स’

बेनॉलिम| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को ‘परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह (एनएसजी) का सदस्य बनाए जाने की भारत की इच्छा के प्रति सहमति जताने के लिए’ ब्राजील के राष्ट्रपति मिशेल तेमेर को धन्यवाद दिया। मोदी ने यहां ब्रिक्स शिखर सम्मेलन से इतर ब्राजील के राष्ट्रपति से मुलाकात की। उन्होंने तेमेर को आतंकवाद के खिलाफ भारत की कार्रवाई का समर्थन करने के लिए और संयुक्त राष्ट्र में पेश की गई प्रमुख आतंकवाद रोधी पहल ‘अंतर्राष्ट्रीय आतंकवाद पर व्यापक संधि’ (सीसीआईटी) के प्रस्ताव को स्वीकार करने पर भी धन्यवाद दिया।




उन्होंने कहा, “हम आतंकवाद का मुकाबला करने के लिए की गई भारतीय कार्रवाई के समर्थन के लिए ब्राजील की भरपूर प्रशंसा करते हैं।” उन्होंने कहा, “भारत और ब्राजील ने इस बात पर भी सहमति जताई है कि दुनिया को बिना किसी फर्क या भेदभाव के आतंकवाद के खतरे से लड़ने के लिए साथ आना चाहिए।” मोदी ने मीडिया को दिए बयान में कहा, “भारत और ब्राजील के बीच द्विपक्षीय संबंध बेहतर हुए हैं। हर स्तर पर हमारा परस्पर संपर्क बढ़ा है।”

उन्होंने कहा, “ब्राजील लैटिन अमेरिका में हमारे सबसे महत्वपूर्ण साझेदारों में से एक है। इस यात्रा के दौरान हमने दवा विनियमन, कृषि अनुसंधान और साइबर सुरक्षा के नए क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने में प्रगति की है।” उन्होंने कहा कि द्विपक्षीय और बहुपक्षीय रूप से भारत और ब्राजील के बीच की साझेदारी में अपार संभावनाएं हैं, जिसमें भारत निवेश करना चाहता है। ब्राजील और भारत के बीच चार समझौता ज्ञापनों (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए गए। ये करार कृषि और पशु पालन, फार्मा उत्पादों के नियमन, पशु जीनोमिक्स एवं सहायक प्रजनन प्रौद्योगिकी और निवेश सहयोग एवं सरलीकरण संधि पर किए गए हैं।

बेनॉलिम| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को 'परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह (एनएसजी) का सदस्य बनाए जाने की भारत की इच्छा के प्रति सहमति जताने के लिए' ब्राजील के राष्ट्रपति मिशेल तेमेर को धन्यवाद दिया। मोदी ने यहां ब्रिक्स शिखर सम्मेलन से इतर ब्राजील के राष्ट्रपति से मुलाकात की। उन्होंने तेमेर को आतंकवाद के खिलाफ भारत की कार्रवाई का समर्थन करने के लिए और संयुक्त राष्ट्र में पेश की गई प्रमुख आतंकवाद रोधी पहल 'अंतर्राष्ट्रीय आतंकवाद पर व्यापक संधि' (सीसीआईटी) के प्रस्ताव…
Loading...