नोएडा में खुल रही दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री, पीएम मोदी आज करेंगे उद्घाटन

नई दिल्ली। सैमसंग ने दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री नोएडा में खोलने की पूरी तैयारी कर ली है। आज यानि सोमवार को फैक्ट्री का उद्घाटन देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और दक्षिण कोरिया के पीएम मून जेई सेक्टुर 81 में करेंगे। उद्घाटन समारोह के दौरान पीएम के अलावा बड़ी संख्या में राजनेता और विदेशी मेहमान भी शिरकत करेंगे।

Pm Modi To Inaugurate Samsung Plant In Noida :

70 हजार लोगों को मिलेगा रोजगार

इसके साथ ही नोएडा का नाम मोबाइल बनाने वाले शहरों के नक्शे में सबसे ऊपर आ जाएगा। इस फैक्ट्री के आने के बाद बेरोजगारी को कम करने में भी सहायता मिलेगी। अनुमान लगाया जा रहा है कि इससे 70 हजार लोगों को मिलेगा रोजगार

इस फैक्ट्री में हर साल बनेंगे 12 करोड़ मोबाइल फोन

कंपनी की ओर से मिली जानकारी के मुताबिक यह निवेश पांच हज़ार करोड़ रूपयों का है। सैमसंग की नई फ़ैक्टरी में सालाना 12 करोड़ मोबाइल फोन बनाने का लक्ष्य रखा गया है। यूपी सरकार ने सैमसंग कंपनी को जीएसटी में छूट देने का भी वादा किया है।

6.7 करोड़ स्मार्टफोन बना रही है कंपनी

पिछले साल जून में दक्षिण कोरियाई कंपनी ने 4,915 करोड़ रुपये का निवेश कर नोएडा संयंत्र में विस्तार करने की घोषणा की, जिसके एक साल बाद नई फैक्ट्री अब दोगुना उत्पादन के लिए तैयार है। भारत में कंपनी इस समय 6.7 करोड़ स्मार्टफोन बना रही है और इस नई यूनिट के शुरू हो जाने पर तकरीबन 12 करोड़ मोबाइल फोन बनाने की संभावना है।

सैमसंग के अन्य इलेक्ट्रॉनिक सामान भी होंगे उपलब्ध

नई फैक्ट्री में न सिर्फ मोबाइल बल्कि सैमसंग के कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक सामान जैसे रेफ्रिजरेटर और फ्लैट पैनल वाले टेलीविजन का उत्पादन भी दोगुना हो जाएगा और कंपनी इन सारे सेगमेंट में अग्रणी की भूमिका में बनी रहेगी।

कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स के मामले में दुनिया के मानचित्र पर सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री होने का टैग चीन, दक्षिण कोरिया और अमेरिका के पास नहीं बल्कि राज्य उत्तर प्रदेश के शहर नोएडा के नाम होगा।

नई दिल्ली। सैमसंग ने दुनिया की सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री नोएडा में खोलने की पूरी तैयारी कर ली है। आज यानि सोमवार को फैक्ट्री का उद्घाटन देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और दक्षिण कोरिया के पीएम मून जेई सेक्टुर 81 में करेंगे। उद्घाटन समारोह के दौरान पीएम के अलावा बड़ी संख्या में राजनेता और विदेशी मेहमान भी शिरकत करेंगे। 70 हजार लोगों को मिलेगा रोजगार इसके साथ ही नोएडा का नाम मोबाइल बनाने वाले शहरों के नक्शे में सबसे ऊपर आ जाएगा। इस फैक्ट्री के आने के बाद बेरोजगारी को कम करने में भी सहायता मिलेगी। अनुमान लगाया जा रहा है कि इससे 70 हजार लोगों को मिलेगा रोजगार इस फैक्ट्री में हर साल बनेंगे 12 करोड़ मोबाइल फोन कंपनी की ओर से मिली जानकारी के मुताबिक यह निवेश पांच हज़ार करोड़ रूपयों का है। सैमसंग की नई फ़ैक्टरी में सालाना 12 करोड़ मोबाइल फोन बनाने का लक्ष्य रखा गया है। यूपी सरकार ने सैमसंग कंपनी को जीएसटी में छूट देने का भी वादा किया है। 6.7 करोड़ स्मार्टफोन बना रही है कंपनी पिछले साल जून में दक्षिण कोरियाई कंपनी ने 4,915 करोड़ रुपये का निवेश कर नोएडा संयंत्र में विस्तार करने की घोषणा की, जिसके एक साल बाद नई फैक्ट्री अब दोगुना उत्पादन के लिए तैयार है। भारत में कंपनी इस समय 6.7 करोड़ स्मार्टफोन बना रही है और इस नई यूनिट के शुरू हो जाने पर तकरीबन 12 करोड़ मोबाइल फोन बनाने की संभावना है। सैमसंग के अन्य इलेक्ट्रॉनिक सामान भी होंगे उपलब्ध नई फैक्ट्री में न सिर्फ मोबाइल बल्कि सैमसंग के कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक सामान जैसे रेफ्रिजरेटर और फ्लैट पैनल वाले टेलीविजन का उत्पादन भी दोगुना हो जाएगा और कंपनी इन सारे सेगमेंट में अग्रणी की भूमिका में बनी रहेगी। कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स के मामले में दुनिया के मानचित्र पर सबसे बड़ी मोबाइल फैक्ट्री होने का टैग चीन, दक्षिण कोरिया और अमेरिका के पास नहीं बल्कि राज्य उत्तर प्रदेश के शहर नोएडा के नाम होगा।