1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. नए संसद भवन की आज आधारशिला रखेंगे पीएम मोदी, 971 करोड़ रुपये की लागत से बनकर होगा तैयार

नए संसद भवन की आज आधारशिला रखेंगे पीएम मोदी, 971 करोड़ रुपये की लागत से बनकर होगा तैयार

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। नए संसद भवन का आज पीएम मोदी शिलान्यास और भूमि पूजन करेंगे। इस कार्यक्रम में कई राजनीतिक दल के लोगों के साथ ही कई देशो के राजदूत शिरकत करेंगे। चार मंजिला नए संसद भवन का निर्माण 971 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से 64500 वर्ग मीटर क्षेत्रफल में किया जाएगा। नए संसंद भवन भारत की स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ यानी 2022 में बनकर तैयार हो जाएगा। बता दें कि नए संसद भवन के निर्माण का प्रस्ताव उपराष्ट्रपति और राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू एवं लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने क्रमशः राज्यसभा और लोकसभा में 5 अगस्त 2019 को किया था।

पढ़ें :- खुशखबरी: दिल्ली में इतने रुपये कम हुए पेट्रोल के दाम, केजरीवाल सरकार का बड़ा फैसला

प्रत्येक संसद सदस्य को नवनिर्मित श्रम शक्ति भवन में कार्यालय के लिए 40 वर्ग मीटर स्थान उपलब्ध कराया जाएगा। गौरतलब है कि, पुराने संसद भवन से इतर नई बिल्डिंग में आधुनिक तकनीक, जरुरतों का ध्यान रखा जा रहा है। इसका निर्माण टाटा प्रोजेक्ट्स द्वारा किया जाएगा. नई बिल्डिंग में ऑडियो विजुअल सिस्टम, डाटा नेटवर्क फैसिलिटी का ध्यान रखा जा रहा है। नई बिल्डिंग में कुल 1224 सांसदों के बैठने की सुविधा होगी।

इनमें 888 लोकसभा चैंबर में बैठ सकेंगे, जबकि राज्यसभा चैंबर में 384 सांसदों के बैठने की सुविधा होगी। भविष्य में अगर सांसदों की संख्या बढ़ती है, तो उसकी जरूरत पूरी हो सकेगी। संसद भवन में देश के हर कोने की तस्वीर दिखाने की कोशिश की जाएगी। नई बिल्डिंग में सेंट्रल हॉल नहीं होगा, लोकसभा चेंबर में ही दोनों सदनों के सांसद बैठ सकेंगे। संसद भवन की मौजूदा बिल्डिंग को एक म्यूजियम के तौर पर रखा जाएगा, उसमें काम भी चलता रहेगा। लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला ने जानकारी दी थी कि पुराने संसद भवन ने देश को बदलते देखा है, ऐसे में वो भविष्य में प्रेरणा देगा।

हरित प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल
नए संसद भवन के निर्माण में हरित प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल होगा और पर्यावरण अनुकूल कार्यशैली को बढ़ावा दिया जाएगा। इससे रोजगार के नए अवसर सृजित होंगे एवं आर्थिक पुनरूद्धार के द्वार खुलेंगे। इसमें उच्च गुणवत्ता वाली ध्वनि तथा दृश्य-श्रव्य सुविधाएं, बैठने की आरामदायक व्यवस्था, प्रभावी और समावेशी आपातकालीन निकासी की व्यवस्था होगी।

पढ़ें :- UPTET Paper Leak Case: योगी सरकार की बड़ी कार्रवाई, STF ने PNP के सचिव संजय उपाध्याय को किया गिरफ्तार
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...