1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. पीएम मोदी 28 दिसंबर को दिखाएंगे दिल्ली मेट्रो की पहली चालकरहित ट्रेन को हरी झंडी

पीएम मोदी 28 दिसंबर को दिखाएंगे दिल्ली मेट्रो की पहली चालकरहित ट्रेन को हरी झंडी

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

नई दिल्ली.प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) आगामी28 दिसंबर को देश की पहली पूर्ण-स्वचालित चालकरहित ट्रेन सेवा को दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) की ‘‘मजेंटा लाइन” (Magenta Line) पर हरी झंडी दिखा कर रवाना करेंगे। दिल्ली मेट्रो रेल निगम (DMRC) ने यह जानकारी दी। दिल्ली मेट्रो के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि नयी पीढ़ी की इन ट्रेनों का वाणिज्यिक परिचालन एक बड़ी प्रौद्योगिकी उपलब्धि साबित होने वाला है। इन ट्रेनों का परिचालन कार्यक्रम के बाद शुरू होगा।

पढ़ें :- वरिष्ठ पत्रकार विनोद दुआ का 67 की उम्र में निधन, दिल्ली के अस्पताल में ली आखिरी सांस

डीएमआरसी ने एक बयान में कहा, ‘‘प्रधानमंत्री मोदी 37 किलोमीटर लंबी मजेंटा लाइन पर देश की अब तक की पहली पूर्ण-स्वचालित चालकरहित ट्रेन सेवा को हरी झंडी दिखाएंगे और 23 किलोमीटर लंबी एयरपोर्ट एक्सप्रेस लाइन (नयी दिल्ली से द्वारका सेक्टर 21 तक) पर यात्रा के लिए पूरी तरह परिचालन वाले नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड (एनसीएमसी) को भी जारी करेंगे।” डीएमआरसी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि दोनों कार्यक्रमों, चालक रहित ट्रेन को हरी झंडी दिखाने और एयरपोर्ट एक्सप्रेस लाइन पर एनसीएमसी की शुरूआत वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से की जाएगी।

उन्होंने कहा, ‘‘यह पहला मौका होगा जब यात्री दिल्ली मेट्रो के किसी भी मार्ग पर एनसीएमसी का उपयोग कर पाएंगे।” प्रधानमंत्री मोदी ने मार्च 2019 में स्वदेश विकसित एनसीएमसी पेश किया था, ताकि लोग देश भर में मेट्रो और बस सहित विभिन्न प्रकार के परिवहन शुल्क का इसके जरिए भुगतान कर सकें। ‘एक देश, एक कार्ड’ नाम से प्रसिद्ध एनसीएमसी कार्ड परिवहन के अनेक साधनों में मान्य कार्ड है जिससे देशभर में मेट्रो, बस सेवाओं के इस्तेमाल के लिए शुल्क अदा किया जा सकता है और टोल तथा पार्किंग आदि शुल्क का भुगतान भी किया जा सकता है।

दिल्ली मेट्रो की मजेंटा लाइन 37 किलोमीटर लंबी है और जनकपुरी पश्चिम से नोएडा के बॉटनिकल गार्डन मेट्रो स्टेशन के बीच है। चालक रहित ट्रेनें मजेंटा लाइन और पिंक लाइन पर परिचालित की जानी हैं। दिल्ली मेट्रो ने अपना वाणिज्यिक परिचालन 25 दिसंबर 2002 को महज 8.2 किमी लंबी शहादरा-तीस हजारी मार्ग पर शुरू किया था।

पढ़ें :- UP TET घोटाले में दाल में कुछ काला नहीं, ​बल्कि पूरी दाल ही काली है : Priyanka Gandhi
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...