1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. पीएम मोदी सोमवार सुबह साढ़े छह बजे जनता को करेंगे संबोधित

पीएम मोदी सोमवार सुबह साढ़े छह बजे जनता को करेंगे संबोधित

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर जनता को संबोधित करेंगे। इसकी जानकारी पीएम ने ट्वीट कर दी है। उन्होंने लिखा कि 'कल 21 जून को हम 7वां योग दिवस मनाएंगे। इस वर्ष की थीम 'योग फॉर वेलनेस' है, जो शारीरिक और मानसिक कल्याण के लिए योग का अभ्यास करने पर केंद्रित है। सोमवार सुबह करीब साढ़े छह बजे योग दिवस कार्यक्रम को संबोधित करूंगा।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Pm Modi Will Address The Public At 6 30 Am On Monday

नई दिल्ली। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर जनता को संबोधित करेंगे। इसकी जानकारी पीएम ने ट्वीट कर दी है। उन्होंने लिखा कि ‘कल 21 जून को हम 7वां योग दिवस मनाएंगे। इस वर्ष की थीम ‘योग फॉर वेलनेस’ है, जो शारीरिक और मानसिक कल्याण के लिए योग का अभ्यास करने पर केंद्रित है। सोमवार सुबह करीब साढ़े छह बजे योग दिवस कार्यक्रम को संबोधित करूंगा।

पढ़ें :- Guru Purnima : देश के शिक्षकों को पीएम मोदी ने किया नमन, बोले- जहां ज्ञान, वहीं है पूर्णता

पीएम मोदी के संबोधन को दूरदर्शन समेत अन्य चैनल्स पर लाइव दिखाया जाएगा। इस कार्यक्रम में आयुष मंत्रालय के राज्यमंत्री किरेन रिजिजू भी संवाद करेंगे। देशभर में अलग-अलग स्थानों पर होने वाले कार्यक्रमों में अपने क्षेत्रों की हस्तियां शामिल होंगी।

हालांकि, कोरोना प्रोटोकॉल का ध्यान रखते हुए एक स्थान पर 20 लोग ही कार्यक्रम में शामिल होंगे। बताया जा रहा है कि केंद्रीय संस्कृति एवं पर्यटन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) प्रह्लाद सिंह पटेल सुबह 7 बजे से 7.45 बजे तक मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ लाल किला परिसर में योग करेंगे।

बता दें कि कोरोना के चलते इस बार कोई सार्वजनिक योग कार्यक्रम नहीं होगा। पीएम मोदी और अन्य लोगों के संबोधन के बाद सुबह योग किया जाएगा। लोग घर पर ही रहकर वर्चुअली योग कार्यक्रम में भाग लेंगे। इसके बाद आध्यात्मिक और योग गुरुओं का संबोधन होगा।

योग दिवस के मौके पर भारत सरकार का संस्कृति मंत्रालय 75 ऐतिहासिक स्थानों पर योगा एन इंडियन हेरिटेज कार्यक्रम का आयोजन कर रहा है। इसके तहत पूरे देश में 75 स्थानों से जिनमें विश्व धरोहर स्थल, स्मारक, सांस्कृतिक, ऐतिहासिक स्थल शामिल हैं।

पढ़ें :- बीकेयू नेता राकेश टिकैत ने कहा कि हम किसान हैं, गुंडे नहीं , गुंडे वे हैं जिनके पास कुछ नहीं है

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...