1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. विवेकानन्द की मूर्ति का अनावरण करेंगे पीएम मोदी, सुरों से समा बंधेंगी मालिनी अवस्थी

विवेकानन्द की मूर्ति का अनावरण करेंगे पीएम मोदी, सुरों से समा बंधेंगी मालिनी अवस्थी

Pm Modi Will Unveil The Statue Of Vivekananda Malini Awasthi Will Tie The Horns

By आराधना शर्मा 
Updated Date

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज देश की राजधानी दिल्ली स्थित जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय JNU परिसर में स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा का अनावरण करेंगे। आपको बता दें, PMO ने इस संबंध में जानकारी दी है। वीडियो कांफ्रेंस के जरिए होने वाले इस अनावरण कार्यक्रम में केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक भी मौजूद रहेंगे।

पढ़ें :- Republic Day Parade 2021: आसमान में गरजा राफेल, पीएम मोदी ने दी वीर जवानों को श्रद्धांजलि

बयान के अनुसार, ‘पीएम मोदी हमेशा कहते रहे हैं कि स्वामी विवेकानंद के आदर्श जितने उनके जीवनकाल में प्रासंगिक थे वह आज भी हैं। पीएम मोदी ने हमेशा जोर दिया है कि लोगों की सेवा करने और युवाओं को मजबूत बनाने से देश शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक रूप से मजबूत बनता है और इससे देश की वैश्विक साख भी बढ़ती है।

पीएम मोदी ने ट्वीट पर लिखा है कि – ‘आज शाम 6:30 बजे, JNU परिसर में स्वामी विवेकानंद की एक प्रतिमा का अनावरण के बाद अपने विचार साझा करूंगा। कार्यक्रम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित किया जाएगा। मैं आज शाम के इस कार्यक्रम का इंतजार कर रहा हूं।’

मालिनी अवस्थी की प्रस्तुति 

प्रधानमंत्री द्वारा प्रतिमा के अनावरण से पहले सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए जाएंगे। लोक गायिका मालिनी अवस्थी लोकगीतों से शाम सुरमयी करेंगी। साथ ही विवेकानंद मेमोरियल की वाइस प्रेसिडेंट कुमारी निवेदिता भी छात्रों को संबोधित करेंगी। इस मौके पर केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक भी मौजूद रहेंगे।

11.5 फीट ऊंची प्रतिमा

आप सोच रहें होंगे कि आखिर स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा कैसे होगी? तो आपको बता दें, यह तय कर पाना काफी मुश्किल था। प्रतिमा उदयपुर में विश्व में सबसे ऊंची शिव प्रतिमा बनाने वाले मूर्तिकार नरेश कुमार ने बनाई है। नरेश कुमार की मानें तो सैकड़ों स्केच बनाने के बाद अंतिम रुप दिया जा सका।

पढ़ें :- चीन भारतीय क्षेत्र में अपने कब्जे का विस्तार कर रहा है लेकिन पीएम खामोश हैं : राहुल गांधी

आपको बता दें, विवेकानंद की मूर्ति आमतौर पर आदमकद होती है। जिसमें वह हाथ बांधे दिखते हैं। लेकिन जेएनयू में स्थापित प्रतिमा छात्रों को आगे बढ़ने का संदेश देगी। प्रतिमा में विवेकानंद का दाहिना पैर और हाथ आगे बढ़ने की मुद्रा में दिखेंगे। जैसे वह लगातार चलने के लिये कह रहे हों। इस मूर्ति की लंबाई 11.5 फीट है जबकि इसका चबूतरा 3 फीट ऊंचा है। यह मूर्ति पंडित नेहरू की मूर्ति से लगभग तीन फुट ऊंची है।

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...