PM मोदी – हम ऐसा भारत बनाएंगे, जो स्वच्छ होगा, स्वस्थ होगा, सुराज के सपने को पूरा करेगा, PM के भाषण की 10 प्रमुख बातें

नई दिल्ली: देश आज आजादी की 70वीं वर्षगांठ मना रहा है. पूरे देश में हर्षोल्लास का माहौल है. देश के हर राज्य में आजादी का जश्न मनाया जाता है. पीएम नरेंद्र मोदी ने आज चौथी बार लाल किले पर राष्ट्रध्वज फहराया. इसी मौके पर 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस के उपलक्ष्य में लाल किले से पीएम नरेंद्र मोदी का भाषण हुआ. राष्ट्र को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा –

आजादी के पावन अवसर पर देशवासियों को कोटि कोटि शुभकामनाएं. उन्होंने कहा कि आज पूरा देश स्वतंत्रता दिवस के साथ जन्माष्टमी का पर्व भी मना रहा है. उन्होंने कहा कि सुदर्शन चक्र धारी मोहन से लेकर चरखा धारी मोहन तक हमारी विरासत है. देश की आजादी के लिए, देश की आन बान शान के लिए, देश के गौरव के लिए हजारों लोगों ने बलिदान दिया, यातनाएं झेली हैं, उन सभी महानुभावों को, माता बहनों को सवा सौ करोड़ देश वासियों की ओर से उनको नमन करता हूं.

{ यह भी पढ़ें:- पीएम मोदी का सवाल- गुजरात चुनाव में पाकिस्तान क्यों कर रहा है हस्तक्षेप ? }

पीएम मोदी ने कहा कि कभी कभार प्राकृतिक आपदा हमारे लिए चुनौती बन जाती है. अच्छी वर्षा देश को फलने फूलने में योगदान देती है. लेकिन जलवायु परिवर्तन से प्राकृतिक आपदा भी आई.

उन्होंने गोरखपुर की घटना का जिक्र भी किया. उन्होंने कहा ऐसे समय पूरा देश उनके साथ है. उन्होंने कहा कि लोगों की सुविधा के लिए हम सब कुछ करेंगे. उन्होंने कहा कि भारत छोड़ो के 75 वर्ष पूरे हुए हैं. पीएम ने कहा कि 1942-47 तक देश के लोगों जोरदार संघर्ष किया और  अंग्रेजों को हिंदुस्तान छोड़ कर जाने को मजबूर किया. उन्होंने कहा कि ‘भारत छोड़ो’ का नारा था, अब ‘भारत जोड़ो’ का नारा है

{ यह भी पढ़ें:- कांग्रेस की प्राथमिक सदस्यता से निलम्बित हुए मणिशंकर अय्यर, पीएम मोदी को बोला था 'नीच' }

पीएम मोदी ने कहा कि कोई छोटा नहीं होता कोई बड़ा नहीं होता. एक गिलहरी भी परिवर्तन की प्रक्रिया का हिस्सा बनती है. उन्होंने कहा कि 2022 में सामूहिक शक्ति के द्वारा हम परिवर्तन ला सकते हैं. न्यू इंडिया में हर किसी को समान अवसर मिले. यहां पर भारत का विश्व में दबदबा बने. पीएम मोदी ने कहा कि हम अगले पांच साल के लिए न्यू इंडिया का संकल्प लें.

1. जन्‍माष्‍टमी की बधाई
पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि देश में आज आजादी के जश्‍न के साथ जन्‍माष्‍टमी का पर्व मनाया जा रहा है. इस परिप्रेक्ष्‍य में सुदर्शन चक्रधारी से लेकर चरखा धारी मोहन तक के हम आभारी हैं.

2. गोरखपुर हादसा
पिछले दिनों गोरखपुर हादसे में बच्चों की मौत पर 125 करोड़ भारतीयों की संवेदनाएं सभी के साथ हैं, हम इससे उबरने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे. ऐसे संकट के समय पूरी संवेदनशीलता के साथ हम कहना चाहते हैं कि कुछ भी करने में हम कमी नहीं करेंगे

{ यह भी पढ़ें:- राहुल गांधी बोले- प्रधानमंत्री मोदी ने गुजरात की महिलाओं से किए झूठे वादे, बढ़ गया अपराध }

3. न्‍यू इंडिया का नारा
न्‍यू इंडिया का संकल्‍प लेकर हमको आगे बढ़ना है. पांच साल के लिए ‘न्यू इंडिया’ का संकल्प लें, 2022 तक शक्तिशाली और समृद्ध ‘न्यू इंडिया’ बनाएंगे. राष्‍ट्रवाद और राष्‍ट्रभक्ति से किया गया काम अच्‍छा परिणाम देता है.

4. युवा शक्ति को आमंत्रण
21वीं सदी में जन्‍म लेने वाले युवाओं को आगे बढ़ने का निमंत्रण देता हूं. देश की तरक्की में भागीदार बनें, देश आपको निमंत्रण देता है. आज नौजवान नौकरी लेने वाला नहीं, नौकरी देने वाला बना है. नए आईआईटी, एम्‍स, आईआईएम का निर्माण किया गया है.

5. कश्‍मीर
कश्‍मीर के अलगाववादी अस्थिरता फैलाने के लिए नए-नए पैंतरे रचते हैं. कश्‍मीर समस्‍या का हल गोली और गाली से नहीं बल्कि गले लगाने से संभव है. मुझे खुशी है कि सुरक्षाबलों के प्रयासों से भटके हुए नौजवान मुख्‍यधारा में आए.

6. किसानों का मुद्दा
हमारे किसान आज रिकॉर्ड फसल उत्‍पादन करके दे रहा है. फसल बीमा योजना से सवा करोड़ किसान जुड़े हैं. किसानों के लिए हमनें 21 योजनाएं लागू कीं. जल्‍दी ही बाकी योजनाएं लागू की जाएंगी. सरकार ने 16 लाख टन दाल खरीदने का ऐतिहासिक काम किया है. किसानों के खेत तक पानी पहुंचाने का काम तेजी से किया जा रहा है. 2022 तक ऐसा हिंदुस्‍तान बनाएंगे जहां किसान चिंता में नहीं चैन से सोएगा.

{ यह भी पढ़ें:- आज से गुजरात में प्रचार की कमान संभालेंगे पीएम मोदी }

7.  तीन तलाक
तीन तलाक से पीडि़त महिलाओं के साथ देश खड़ा हुआ है. हम इसके खिलाफ संघर्ष करने वाली महिलाओं को नमन करते हैं.

8. नोटबंदी
हमने सरकार बनाने के तत्‍काल बाद काला धन के मुद्दे पर एसआईटी का गठन किया. तीन साल के भीतर सवा लाख करोड़ से ज्‍यादा काला धन देश में आया है. नोटबंदी के बाद से छिपे हुए कालेधन को मुख्‍यधारा में आना पड़ा. नोटबंदी के बाद 3 लाख करोड़ से ज्‍यादा रुपया बैंकों में आया है. नए कालेधन पर बहुत बड़ी रुकावट आई है. एक लाख ऐसे लोगों ने इनकम टैक्‍स दिया जो इनकम टैक्‍स नहीं देते थे. नोटबंदी के बाद हमने पौने दो लाख कंपनियों को बंद किया.

9. जीएसटी
एक जुलाई से जीएसटी लागू किया गया. इससे ट्रक वालों का 30 फीसदी समय बच गया है. व्‍यापार में भी लाभ हुआ है. हालांकि ये भी कहा कि कोई भी चीज लागू होती है तो थोड़ी बहुत समस्‍याएं तो आती ही हैं.

10. सर्जिकल स्‍ट्राइक
जब सर्जिकल स्‍ट्राइक किया गया तो पूरी दुनिया ने सरकार का लोहा माना. उन्‍होंने आतंकवाद पर साथ देने वाले देशों का आभार प्रकट किया.

प्रधानमंत्री के संबोधन के लाइव अपडेट्स…

{ यह भी पढ़ें:- मोदी ने लॉन्च किया उमंग ऐप, गैस बुकिंग, टैक्स भरने समेत 100 से ज्यादा सर्विस कर सकेंगे यूज }

  • वंदे मातरम, जय हिंद और भारत माता की जय के साथ प्रधानमंत्री ने अपना संबोधन खत्म किया.
  • 350-400 जिलों तक डायलिसिस की सुविधा पहुंचाई गई.
  • 2022 तक न्यू इंडिया बनाने का संकल्प लेना होगा.
  • पौने दो लाख शेल कंपनिया का रजिस्ट्रेशन बंद किया.
  • डिजिटल लेनदेन में 35 फीसदी इजाफा हुआ.
  • सर्जिकल स्ट्राइक से दुनिया ने भारत का लोहा माना.

काले धन पर कसी लगाम..

  • 8 सौ करोड़ की अवैध संपत्ति जब्त की.
  • तीन लाख कंपनियां सिर्फ शेल कंपनी हैं और हवाला का कारोबार करती हैं.
  • दो लाख करोड़ तक के कालेधन को बैंक तक पहुंचना पड़ा.
  • सवा लाख करोड़ का कालाधन पकड़ा गया.
  • सरकार बनने के बाद एसआईटी का निर्माण किया.
  • पूर्वी भारत में प्राकृतिक संपदा भरपूर है.
  • देश में विकास की रफ्तार को कम नहीं होने दिया.
  • बड़े बदलाव की वजह से रुकावटें आती हैं.

मॉब लिंचिंग और तीन तलाक पर भी बोले पीएम

  • आस्था के नाम पर हिंसा बर्दाश्त नहीं.
  • तीन तलाक के खिलाफ महिलाओं को मदद.
  • तीन तलाक पीड़ित बहनों ने आंदोलन चलाया.

नोटबंदी और जीएसटी की तारीफ

  • नौजवानों को बिना गारंटी लोन दिया.
  • जनभागीदारी से देश को आगे बढ़ाने का प्रयास किया है.
  • प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के कारण करोड़ों योजना अपने पैर पर खड़े हुए हैं.
  • विदेश निवेश को बढ़ावा दिया.
  • सिंचाई की 21 बड़ी परियोजनाएं पूरी की. अभी 50 योजनाएं पूरी करनी है.
  • देश में रिकॉर्ड फसल का उत्पादन.
  • 16 लाख टन दाल सरकार ने खरीदी.
  • देश में दाल का रिपकॉर्ड उत्पादन हुआ.
  • नोटबंदी से भ्रष्टाचारियों पर लगाम लगी.
  • नोटबंदी के वक्त लोगों ने धैर्य दिखाया.
  • देश के विकास में राज्यों को योगदान.
  • लोकतंत्र मतपत्र तक सीमित नहीं हो सकता.
  • देश में मध्यम वर्ग को कई फायदा मिले.
  • गांव-गांव में बिजली पहुंच रही है.
  • महंगाई पर नियंत्रण किया.
  • देश में दोगुनी रफ्तार से सड़कें बन रही हैं.
  • 2.5 करोड़ लोगों को गैस के चुल्हे मिले.
  • आतंकवाद के खिलाफ विश्व के कई देश में हमारे साथ हैं.
  • जीएसटी से देश को नया सामर्थ्य मिला.
  • ओआरओपी से सरकार ने वादा निभाया.

आजादी की 75वीं सालगिरह तक बड़ा बदलाव

  • निराशा त्यागकर बदलाव में भरोसा दीजिए.
  • देश में हम सक्षम, शक्तिशाली, सभी के लिए अवसर के रूप में हम न्यू इंडिया बना सकते हैं.
  • देश की आजादी की 75वीं वर्षगांठ तक हम देश में परिवर्तन ला सकते हैं.
  • सवा सौ देश वासियों में न कोई छोटा है न कोई बड़ा है.
  • भारत छोड़ो आंदोलन के 75 साल पूरे.
  • आजाद भारत के लिए वर्ष विशेष है.
  • देश के लिए बलिदान देने वालों को नमन.
  • प्रधानमंत्री ने प्राकृतिक आपदा से अस्पताल में हुई दुर्घटना में मृतकों को याद किया.
  • प्राकृतिक आपदाएं हमारे लिए चुनौती.
  • देश के लिए बलिदान देने वालों को नमन.
  • प्रधानमंत्री ने प्राकृतिक आपदा से अस्पताल में हुई दुर्घटना में मृतकों को याद किया.
  • प्राकृतिक आपदाएं हमारे लिए चुनौती.
  • प्रधानमंत्री लाल किले से संबाधित कर रहे हैं.

इससे पहले प्रधानमंत्री सुबह 7.20 बजे लाल किला पहुंचे, जिसके बाद उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया. इससे पहले वह राजघाट गए थे, जहां उन्होंने महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि दी. स्वतंत्रता दिवस के मौके पर देश में भारी सुरक्षा व्यवस्था की गई है. दिल्ली सहित देश के विभिन्न हिस्सा में सुरक्षा एजेंसियों के निर्देश पर निगरानी रखी जा रही है.

Loading...