दो दिवसीय कोलकता दौरे पर पीएम नरेंद्र मोदी, ममता बनर्जी के साथ साझा करेंगे मंच, सुरक्षा व्यवस्था की गई पुख्ता

pm modi
दो दिवसीय कोलकता दौरे पर पीएम नरेंद्र मोदी, ममता बनर्जी के साथ साझा करेंगे मंच, सुरक्षा व्यवस्था की गई पुख्ता

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और एनआरसी को लेकर पश्चिम बंगाल में जमकर विरोध ​हो रहा है। इस बीच पीएम नरेंद्र मोदी दो दिवसीय दौरे पर कोलकता जा रहे हैं। पीएम के दौरे को लेकर वहां की सुरक्षा व्यवस्था को पुख्ता कर दिया गया है। पीएम कोलकता बंदरगाह ट्रस्ट की 150वीं वर्षगांठ के मौके पर आयोजित समारोह में शामिल होने के लिए जा रहे हैं। वहीं, इस दौरान चार धरोहर इमारतों को राष्ट्र को समर्पित करेंगे।

Pm Narendra Modi To Share Stage With Mamta Banerjee On Two Day Kolkata Tour Security Set Up :

पीएम के कोलकता दौरे को लेकर वहां के छात्रों ने विरोध प्रदर्शन का फैसला लिया है, जिसके कारण वहां की सुरक्षा व्यवस्था को और मुस्तैद कर दिया गया है। बता दें कि इस दौरे के दौरान पीएम मोदी और सीएम ममता बनर्जी की राजभवन में मुलाकात तय है। बताया जा रहा है कि पीएम निर्धारित समय के अनुसार शनिवार को शाम करीब चार बजे पीएम कोलकाता पहुंचने के बाद दोनों नेताओं के बीच एक बैठक होगी।

हालांकि, अधिकारियों की तरफ से बैठक के एजेंडे का खुलासा नहीं किया गया। वहीं, दूसरी ओर छात्रों के प्रदर्शन को देखते हुए प्रशासन ने राजभवन के आस-पास धारा 144 लागू कर दिया है। राजभवन और हवाई अड्डे के आसापस भारी संख्या में सुरक्षा बल तैनात किए गए हैं। पीएम मोदी के इस दौरे को लेकर प्रशासन किस कदर सतर्क हैं, इस बात का अंदाजा ऐसे लगाया जा सकता है कि पीएम मोदी मार्ग से राजभवन जाते हैं तो उसके लिए हवाई अड्डे से राजभवन तक पूरी सड़क पर बैरिकेडिंग कर दी गई है।

पूरी सड़क पर सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं। वहीं, वामपंथी छात्र संगठन एसएफआई ने राज्य के अन्य हिस्सों से भी छात्रों को कोलकाता पहुंचने के लिए कहा है। छात्रों का मकसद भारी विरोध प्रदर्शन के जरिए प्रधानमंत्री को संदेश देना है। छात्रों की योजना है कि वे राजभवन के पास पहुंचें जहां पीएम मोदी का रुकने का कार्यक्रम है। प्रधानमंत्री की यात्रा ऐसे समय पर हो रही है कि जब केंद्र सरकार ने सीएए की अधिसूचना जारी कर दी है।

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और एनआरसी को लेकर पश्चिम बंगाल में जमकर विरोध ​हो रहा है। इस बीच पीएम नरेंद्र मोदी दो दिवसीय दौरे पर कोलकता जा रहे हैं। पीएम के दौरे को लेकर वहां की सुरक्षा व्यवस्था को पुख्ता कर दिया गया है। पीएम कोलकता बंदरगाह ट्रस्ट की 150वीं वर्षगांठ के मौके पर आयोजित समारोह में शामिल होने के लिए जा रहे हैं। वहीं, इस दौरान चार धरोहर इमारतों को राष्ट्र को समर्पित करेंगे। पीएम के कोलकता दौरे को लेकर वहां के छात्रों ने विरोध प्रदर्शन का फैसला लिया है, जिसके कारण वहां की सुरक्षा व्यवस्था को और मुस्तैद कर दिया गया है। बता दें कि इस दौरे के दौरान पीएम मोदी और सीएम ममता बनर्जी की राजभवन में मुलाकात तय है। बताया जा रहा है कि पीएम निर्धारित समय के अनुसार शनिवार को शाम करीब चार बजे पीएम कोलकाता पहुंचने के बाद दोनों नेताओं के बीच एक बैठक होगी। हालांकि, अधिकारियों की तरफ से बैठक के एजेंडे का खुलासा नहीं किया गया। वहीं, दूसरी ओर छात्रों के प्रदर्शन को देखते हुए प्रशासन ने राजभवन के आस-पास धारा 144 लागू कर दिया है। राजभवन और हवाई अड्डे के आसापस भारी संख्या में सुरक्षा बल तैनात किए गए हैं। पीएम मोदी के इस दौरे को लेकर प्रशासन किस कदर सतर्क हैं, इस बात का अंदाजा ऐसे लगाया जा सकता है कि पीएम मोदी मार्ग से राजभवन जाते हैं तो उसके लिए हवाई अड्डे से राजभवन तक पूरी सड़क पर बैरिकेडिंग कर दी गई है। पूरी सड़क पर सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं। वहीं, वामपंथी छात्र संगठन एसएफआई ने राज्य के अन्य हिस्सों से भी छात्रों को कोलकाता पहुंचने के लिए कहा है। छात्रों का मकसद भारी विरोध प्रदर्शन के जरिए प्रधानमंत्री को संदेश देना है। छात्रों की योजना है कि वे राजभवन के पास पहुंचें जहां पीएम मोदी का रुकने का कार्यक्रम है। प्रधानमंत्री की यात्रा ऐसे समय पर हो रही है कि जब केंद्र सरकार ने सीएए की अधिसूचना जारी कर दी है।