1. हिन्दी समाचार
  2. PMC बैंक संकट-दो खाताधारकों की हार्ट अटैक से मौत, एक ने की आत्महत्या

PMC बैंक संकट-दो खाताधारकों की हार्ट अटैक से मौत, एक ने की आत्महत्या

Pmc Bank Crisis Two Account Holders Die From Heart Attack One Suicides

नई दिल्ली। पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव (पीएमसी) बैंक  में आये संकट के चलते लगातार सदमे में जा रहे खाताधारकों की मौत का सिलसिला जारी है। जहां दो खाताधारकों की हार्ट अटैक से मौत हो गयी थी वहीं अब एक खाताधारक ने पैसा फंसने के बाद आत्महत्या कर ली है। पीएमसी बैंक में आये संकट की वजह से हजारों खाताधारकों की जिंदगी भर की कमाई फंस गयी जिसकी वजह से खाताधारक काफी परेशान दिख रहे हैं।

पढ़ें :- मेहनत के बाद भी नहीं मिलता फल, तो आपके कुंडली में है कालशर्प दोष करे ये उपाए

आपको बता दें कि मुंबई के ओशिविरा इलाके में रहने वाले संजय गुलाटी पीएमसी बैंक के बड़े खाताधारकों में से एक थे, उनके बैंक में लगभग 90 लाख रूपये जमा है। कल सुबह वह घर से बैंक के खिलाफ प्रदर्शन करने गये थे लेकिन जब घर लौटे तो उनकी हार्ट अटैक से मौत हो गयी। वहीं कल पीएमसी बैंक के खातेदारक फत्तोमल पंजाबी का भी इसी वजह से ह्रदय गति रूकने से निधन हो गया था। उधर वरसोवा के मॉडल टाउन इलाके में रहने वाली डॉक्टर निवेदिता बिजलानी (39) ने सोमवार रात नींद की गोलियां खा ली और उनकी जान चली गयी। वह अपने पिता के साथ रहती थी और उनका भी पीएमसी बैंक में खाता था फिल्हाल पुलिस का कहना है कि उन्हे आत्महत्या का कारण स्पष्ट नही हो रहा है।

आपको बता दें कि हाल ही में आरबीआई ने पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव (पीएमसी) बैंक  द्वारा गलत जानकारी दिये जाने के चलते बैंक पर कई तरह की पाबंदिया लगा दी हैं। आरबीआई ने आदेश जारी करते हुए बताया है कि खाताधारक अपने बचत खाते, करेंट खाता या अन्य किसी भी खाते से छह महीने में 40000 रुपये से अधिक रुपये नहीं निकाल पाएंगे। इतना ही नहीं बैंक किसी भी ग्राहक को कर्ज भी नही दे सकता है। आपको बता दें कि इस बैंक की 137 शाखाएं हैं और यह देश के टॉप-10 को-ऑपरेटिव बैंकों में से एक है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X