PNB घोटाला: मेहुल चोकसी का करीबी कोलकाता एयरपोर्ट से गिरफ्तार

deepak kukarni
PNB घोटाला: मेहुल चोकसी का करीबी कोलकाता एयरपोर्ट से गिरफ्तार

नई दिल्ली। पंजाब नेशनल बैंक घोटाले जो जांच कर रहा प्रवर्तन निदेशालय ED को एक अहम कामयाबी हाथ लगी है। ईडी की टीम ने इस मामले में मुख्य आरोपी मेहुल चोकसी के बेहद करीबी माने जाने वाले दीपक कुलकर्णी को कोलकाता एयरपोर्ट से गिरफ्तार कर लिया है। वो हांगकांग से आने से वाली फ्लाइट से यहां आया था। बताया जा रहा है कि दीपक चोकसी की हांगकांग संचालित डमी फर्म का डायरेक्टर है। बता दें कि सीबीआई और ईडी ने हाल ही में कुलकर्णी के खिलाफ लुकआउट नोटिस भी जारी किया था। जिसके बाद से टीमे लगातार उसकी तलाश कर रही थी।

Pnb Fraud Mehul Choksis Freind Deepak Kulkarni Arreste At Kolkata Airport :

ईडी समेत अन्य सुरक्षा एजेंसियों को उम्मीद है कि कुलकर्णी से घोटाले के फरार मुख्य आरोपी मेहुल चोकसी के बारे में कुछ अहम सुराग मिल सकते हैं। जिनकी मदद से जांच एजेंसियां मेहुल चोकसी तक पहुंच सकती हैं। इससे पहले सितंबर में ईडी ने सभी आरोपों को झूठा और आधारहीन बताया था। चोकसी ने एक वीडियो जारी कर कहा था कि ईडी ने गलत तरीके से मेरी संपत्ति जब्त की है।

बता दें कि यह पहला मौका था जब अरबों रुपये के पीएनबी घोटाले के सामने आने के बाद चोकसी ने एक वीडियो के माध्यम से अपना पक्ष रखा था। उसने ईडी के आरोपों को गलत करार दिया था। चोकसी ने यह भी कहा था कि भारत सरकार उसे ‘सॉफ्ट टार्गेट’ बना रही है, क्‍योंकि वह ब्रिटेन भाग गए अन्‍य भगोड़ों को प्रत्‍यर्पित नहीं करा पा रही है।

नई दिल्ली। पंजाब नेशनल बैंक घोटाले जो जांच कर रहा प्रवर्तन निदेशालय ED को एक अहम कामयाबी हाथ लगी है। ईडी की टीम ने इस मामले में मुख्य आरोपी मेहुल चोकसी के बेहद करीबी माने जाने वाले दीपक कुलकर्णी को कोलकाता एयरपोर्ट से गिरफ्तार कर लिया है। वो हांगकांग से आने से वाली फ्लाइट से यहां आया था। बताया जा रहा है कि दीपक चोकसी की हांगकांग संचालित डमी फर्म का डायरेक्टर है। बता दें कि सीबीआई और ईडी ने हाल ही में कुलकर्णी के खिलाफ लुकआउट नोटिस भी जारी किया था। जिसके बाद से टीमे लगातार उसकी तलाश कर रही थी। ईडी समेत अन्य सुरक्षा एजेंसियों को उम्मीद है कि कुलकर्णी से घोटाले के फरार मुख्य आरोपी मेहुल चोकसी के बारे में कुछ अहम सुराग मिल सकते हैं। जिनकी मदद से जांच एजेंसियां मेहुल चोकसी तक पहुंच सकती हैं। इससे पहले सितंबर में ईडी ने सभी आरोपों को झूठा और आधारहीन बताया था। चोकसी ने एक वीडियो जारी कर कहा था कि ईडी ने गलत तरीके से मेरी संपत्ति जब्त की है। बता दें कि यह पहला मौका था जब अरबों रुपये के पीएनबी घोटाले के सामने आने के बाद चोकसी ने एक वीडियो के माध्यम से अपना पक्ष रखा था। उसने ईडी के आरोपों को गलत करार दिया था। चोकसी ने यह भी कहा था कि भारत सरकार उसे 'सॉफ्ट टार्गेट' बना रही है, क्‍योंकि वह ब्रिटेन भाग गए अन्‍य भगोड़ों को प्रत्‍यर्पित नहीं करा पा रही है।