नेपाल के मस्जिद में छिपे नौ पाकिस्‍तानियों को पुलिस ने पकड़ा,क्‍वारंटीन में भेजा

download

सोनौली । नेपाल की सुनसरी पुलिस ने दिल्ली निजामुद्दीन जमात में शामिल लोगों की तलाश के दौरान एक मस्जिद में छिपे पाकिस्तान के नौ नागरिकों और भारत के आगरा के रहने वाले दस लोगों को हिरासत में लेकर 14 दिनों के लिए क्वारंटीन सेंटर में भेज दिया है। नेपाल पुलिस के अनुसार सभी लोग दिल्ली जमात में शामिल होकर धर्म प्रचार के सिलसिले में नेपाल आए थे।

Police Caught Nine Pakistanis Hiding In Nepal Mosque Sent To Quarantine :

भारत-नेपाल सीमा के पास मोरंग के सुनसरी नगर पालिका अंतर्गत एक मस्जिद में नेपाल पुलिस ने छापेमारी कर 19 लोगों को हिरासत में लिया है। नेपाल पुलिस की पूछताछ में पकड़े गए लोगों में 9 लोग पाकिस्तान से इस्लाम के धर्म प्रचार के लिए नेपाल आए थे। जबकि दस लोग भारत के आगरा से हैं। इस सिलसिले में पुलिस मस्जिद में छिपा कर रखने के मामले में स्थानीय एक युवक को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

नेपाल के पुलिस डीएसपी सागर थापा ने बताया कि पाकिस्तानी नागरिक जिहाद ,साहिद, स्लैम, खान, अली ,मोस्टर, उल्लाह खान, इम्तियाज, जामिन के साथ दस भारतीय नागरिक आगरा के रहने वाले हैं। सभी को हिरासत में लेकर 14 दिनों के लिए क्वारंटीन किया गया है। पूछताछ में लोगों ने बताया कि इस्लाम धर्म के प्रचार के लिए नेपाल आए थे। लॉकडाउन होने के बाद वह निकल नहीं सके। लेकिन इनके जमात में शामिल होने के संदेह को देखते हुए इन्हें क्वारंटीन किया गया है।

सोनौली । नेपाल की सुनसरी पुलिस ने दिल्ली निजामुद्दीन जमात में शामिल लोगों की तलाश के दौरान एक मस्जिद में छिपे पाकिस्तान के नौ नागरिकों और भारत के आगरा के रहने वाले दस लोगों को हिरासत में लेकर 14 दिनों के लिए क्वारंटीन सेंटर में भेज दिया है। नेपाल पुलिस के अनुसार सभी लोग दिल्ली जमात में शामिल होकर धर्म प्रचार के सिलसिले में नेपाल आए थे। भारत-नेपाल सीमा के पास मोरंग के सुनसरी नगर पालिका अंतर्गत एक मस्जिद में नेपाल पुलिस ने छापेमारी कर 19 लोगों को हिरासत में लिया है। नेपाल पुलिस की पूछताछ में पकड़े गए लोगों में 9 लोग पाकिस्तान से इस्लाम के धर्म प्रचार के लिए नेपाल आए थे। जबकि दस लोग भारत के आगरा से हैं। इस सिलसिले में पुलिस मस्जिद में छिपा कर रखने के मामले में स्थानीय एक युवक को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। नेपाल के पुलिस डीएसपी सागर थापा ने बताया कि पाकिस्तानी नागरिक जिहाद ,साहिद, स्लैम, खान, अली ,मोस्टर, उल्लाह खान, इम्तियाज, जामिन के साथ दस भारतीय नागरिक आगरा के रहने वाले हैं। सभी को हिरासत में लेकर 14 दिनों के लिए क्वारंटीन किया गया है। पूछताछ में लोगों ने बताया कि इस्लाम धर्म के प्रचार के लिए नेपाल आए थे। लॉकडाउन होने के बाद वह निकल नहीं सके। लेकिन इनके जमात में शामिल होने के संदेह को देखते हुए इन्हें क्वारंटीन किया गया है।