1. हिन्दी समाचार
  2. शाहीनबाग में CAA-NRC के खिलाफ फिर धरना शुरू होने की सूचना, पुलिस बल तैनात

शाहीनबाग में CAA-NRC के खिलाफ फिर धरना शुरू होने की सूचना, पुलिस बल तैनात

By बलराम सिंह 
Updated Date

Police Forces Deployed In Shaheenbagh To Start Protesting Again Against Caa Nrc

नई दिल्ली। लॉकडाउन में ढील मिलते ही दक्षिण दिल्ली के शाहीन बाग में राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर और नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ फिर से धरना शुरू करने की तैयारी तेज हो गई है। वहीं, गुपचुप तरीके से धरना-प्रदर्शन शुरू करने की सूचना मिलते ही पहुंची पुलिस ने भी मोर्चा संभाल लिया है। यहां पर फिलहाल तकरीबन 100 पुलिसवालों ने मोर्चा संभाल लिया है।

पढ़ें :- दिल्ली एम्स में ओपीडी सेवा शुक्रवार से , ऑनलाइन होगा पंजीकरण

दिल्ली पुलिस ने कोई जोखिम नहीं लेते हुए शाहीन बाग के साथ-साथ जामिया इलाके में संभावित धरने के मद्देनजर पुलिस के जवानों को तैनात कर दिया गया है। यहां पर कड़ी निगरानी की जा रही थी। खुफिया विभाग को भी सक्रिय कर दिया गया है। मिली जानकारी के मुताबिक, जामिया मिल्लिया इस्लामिया के गेट नंबर 7 और सुखदेव विहार मेट्रो स्टेशन के नीचे भी भारी संख्या में पुलिस तैनात कर दी गई है। होली फैमिली हॉस्पिटल वाले कट पर भी पुलिस तैनात है।

दिल्ली के शाहीन बाग और जामिया के साथ उत्तर पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद इलाके में भी सुरक्षा बढ़ा दी गई है।जाफराबाद के धरना स्थल पर भी केंद्रीय रिज़र्व पुलिस की महिला विंग तैनात की गई है।
मिली जानकारी के मुताबिक, पिछले कुछ दिनों से शाहीन बाग में बेहद सीमित संख्या में लोग जुट रहे हैं। इस दौरान वह मीटिंग भी कर रहे हैं, लेकिन फिलहाल सड़क पर नहीं बैठे हैं।

लॉक डाउन खुलने के बाद शाहीन बाग में बुधवार को फिर से सीएए और एनआरसी के विरोध में धरना शुरू होने की सूचना पर दिल्ली पुलिस भी सकते में आ गई। फिलहाल यहां पर तकरीबन 100 पुलिसकर्मी तैनात हैं और यहां पर चल रही प्रत्येक गतिविधि पर निगाह रखी जा रही है।

बताया जा रहा है कि पिछले तीन-चार दिनों से सोशल मीडिया पर धरना फिर से शुरू करने के बाबत मैसेज भेजे जा रहे थे। इतना ही नहीं व्हाट्सऐप ग्रुप में भी इस तरह का मैसेज चलाया जा रहा है कि लॉकडाउन खत्म होने के बाद फिर से शाहीन बाग में NRC और CAA के खिलाफ धरना-प्रदर्शन शुरू किया जाए। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, 4-5 दिनों से कुछ लोग बैठक कर धरना करने के बाबत जायजा ले रहे थे। इस दौरान धरना दोबारा शुरू करने पर बात हो रही थी।

पढ़ें :- विश्वविद्यालय में कैश बुक व बैलेन्स सीट अनिवार्य रूप से तैयार की जाये : आनंदीबेन पटेल

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X