बिहार: महिला को चिता पर जिंदा जलाने की कोशिश, पुलिस ने बचाई जान

woman
बिहार: विवाहित महिला को चिता पर जिंदा जलाने की कोशिश, पुलिस ने बचाई जान

नई दिल्ली। बिहार के भोजपुर से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां के संदेश थाने के सारीपुर गांव के पास सोन नदी के किनारे एक महिला को चिता पर लिटाकर जिंदा जलाने का प्रयास किया जा रहा था। हालांकि गुप्त सूचना के बाद आनन-फानन में पहुंची पुलिस ने महिला को आरोपियों के चंगुल से बचा लिया। महिला का संदेश रेफरल अस्पताल में इलाज चल रहा है। महिला की पहचान संदेश गांव के रवींद्र ठाकुर की पत्नी पुतुल देवी के रूप में की गयी है।

Police Recovers Woman From Pyre As Family Attempts To Burn Her Alive In Bihar :

मिली जानकारी के मुताबिक,

पुलिस के एक अधिकारी ने मंगलवार को बताया कि सोमवार शाम संदेश पुलिस को सूचना मिली थी कि सोन नदी के सारीपुर घाट पर चिता सजाकर किसी महिला को जिंदा जलाने की कोशिश की जा रही है। पुलिस ने सूचना के बाद त्वरित कार्रवाई करते हुए घटनास्थल पर पहुंच विवाहिता को चिता से उठाया और संदेश रेफरल अस्पताल में भर्ती करा दिया।

महिला की हालत अब स्थिर है। पुलिस के मुताबिक, बचाए जाने के समय महिला पूरी तरह बेसुध थी। संदेश के थाना प्रभारी अवधेश कुमार ने बताया कि बचरी गांव निवासी भगवान ठाकुर की पुत्री लक्ष्मी देवी का विवाह 10 साल पहले संदेश के रहने वाले रविन्द्र ठाकुर के साथ हुआ था। आरोप है कि लक्ष्मी को ससुराल में शुरू से ही प्रताड़ित किया जाता रहा है।

थाना प्रभारी ने बताया कि पीड़िता लक्ष्मी के बयान पर संदेश थाना में इस मामले की एक प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है, जिसमें पति और सास, ससुर को नामजद आरोपी बनाया गया है। उन्होंने बताया कि घटना के बाद से सभी आरोपी फरार हैं, उनकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

नई दिल्ली। बिहार के भोजपुर से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां के संदेश थाने के सारीपुर गांव के पास सोन नदी के किनारे एक महिला को चिता पर लिटाकर जिंदा जलाने का प्रयास किया जा रहा था। हालांकि गुप्त सूचना के बाद आनन-फानन में पहुंची पुलिस ने महिला को आरोपियों के चंगुल से बचा लिया। महिला का संदेश रेफरल अस्पताल में इलाज चल रहा है। महिला की पहचान संदेश गांव के रवींद्र ठाकुर की पत्नी पुतुल देवी के रूप में की गयी है। मिली जानकारी के मुताबिक, पुलिस के एक अधिकारी ने मंगलवार को बताया कि सोमवार शाम संदेश पुलिस को सूचना मिली थी कि सोन नदी के सारीपुर घाट पर चिता सजाकर किसी महिला को जिंदा जलाने की कोशिश की जा रही है। पुलिस ने सूचना के बाद त्वरित कार्रवाई करते हुए घटनास्थल पर पहुंच विवाहिता को चिता से उठाया और संदेश रेफरल अस्पताल में भर्ती करा दिया। महिला की हालत अब स्थिर है। पुलिस के मुताबिक, बचाए जाने के समय महिला पूरी तरह बेसुध थी। संदेश के थाना प्रभारी अवधेश कुमार ने बताया कि बचरी गांव निवासी भगवान ठाकुर की पुत्री लक्ष्मी देवी का विवाह 10 साल पहले संदेश के रहने वाले रविन्द्र ठाकुर के साथ हुआ था। आरोप है कि लक्ष्मी को ससुराल में शुरू से ही प्रताड़ित किया जाता रहा है। थाना प्रभारी ने बताया कि पीड़िता लक्ष्मी के बयान पर संदेश थाना में इस मामले की एक प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है, जिसमें पति और सास, ससुर को नामजद आरोपी बनाया गया है। उन्होंने बताया कि घटना के बाद से सभी आरोपी फरार हैं, उनकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।