आखिर क्यों पुलिस ने जलती चिता से निकाला लड़की का शव..

मेरठ| यूपी के मेरठ जिले में पुलिस वालों को जलती चिता से लड़की का शव बाहर निकालने को मजबूर होना पड़ा| दरअसल, बीते बुधवार को एक लड़की की संदिग्ध हालत में मौत हो गई थी| आरोप है कि परिवार के लोग पुलिस को सूचित किए बिना ही लड़की आ अंतिम संस्कार कर रहे थे| तभी किसी ने पुलिस को सूचना दे दी| मौके पर पहुंची पुलिस ने अंतिम संस्कार रोककर शव को जलती चिता से ही बाहर निकाल लिया|




मामला मेरठ के मलियाना का हैं| यहां के निवासी विजेंद्र की बेटी दीपा बीएड की तैयारी कर रही थी| पुलिस के मुताबिक, बुधवार को दीपा के परिवार के लोग कहीं गए हुए थे| जब वो घर वापस लौटे तो उन्होने अपनी बेटी का शव पंखे से लटका देखा| इस घटना के बाद परिवार बिना पुलिस को सूचना दिए अपनी बेटी का अंतिम संस्कार करने की तैयारी में जुट गया| इसी बीच किसी ने पुलिस को फोन कर के घटना की सूचना दी| जब तक पुलिस शमशान घाट पहुंची तब तक दीपा की चिता को मुखाग्न‍ि दी जा चुकी थी| फिलहाल पुलिस ने जलती चिता से शव बाहर निकाल कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया|





दीपा ने की थी कोर्ट मैरिज:

पुलिस ने बताया कि दीपा अपने ही पड़ोस में रहने वाले युवक हरीश से प्यार करती थी| हरीश दूसरी बिरादरी का था जिसके चलते दीपा के घर वाले रिश्ते से खुश नहीं थे| इस बीच दीपा ने हरीश से कोर्ट मैरिज कर ली, लेकिन परिवार के दबाव के चलते वो अपने पति के साथ नहीं रह पा रही थी जिससे दीपा बहुत परेशान रहती थी| उधर, परिजनो का कहना है कि दीपा खुद इस रिश्ते को तोड़ना चाहती थी और उसने ये बात लिख कर भी दी थी|

Loading...