1. हिन्दी समाचार
  2. बंगाल: अल्पसंख्यक बहुल स्कूलों में अलग डाइनिंग हॉल बनवाएगी ममता सरकार, BJP बोली- ये बांटने की राजनीति

बंगाल: अल्पसंख्यक बहुल स्कूलों में अलग डाइनिंग हॉल बनवाएगी ममता सरकार, BJP बोली- ये बांटने की राजनीति

By रवि तिवारी 
Updated Date

Politics West Bengal Govt To Construct Dining Rooms In Muslim Dominated Schools Bjp Attacks

बंगाल। पश्चिम बंगाल सरकार के एक और आदेश का भारतीय जनता पार्टी ने विरोध शुरू कर दिया है दरअसल, सरकार ने सहायता प्राप्त स्कूलों में मिड-डे मिल के लिए डाइनिंग हॉल बनाने का आदेश दिया है, लेकिन ये डाइनिंग हॉल उन्हीं स्कूलों में बनेंगे जहां 70 फीसदी से अधिक अल्पसंख्यक बच्चे पढ़ते हैं। बीजेपी ने ममता के आदेश पर सवाल उठाया है और बीजेपी नेता ने बंगाल को बाटने की राजनीति का आरोप लगाया है। धर्म के आधार पर लोगों को बांटा जा रहा है।

पढ़ें :- 21 जून लॉन्च होने से पहले सैमसंग गैलेक्सी M32 का स्पेसिफिकेशंस गूगल प्ले कंसोल पर नज़र आया

पश्चिम बंगाल के कूच बिहार जिला मैजिस्‍ट्रेट की ओर से जारी आदेश में उन सरकारी और सरकारी सहायता प्राप्‍त स्‍कूलों का नाम मांगा है जहां पर 70 फीसदी से ज्‍यादा अल्‍पसंख्‍यक बच्‍चे पढ़ते हैं। इन सरकारी स्‍कूलों में अल्‍पसंख्‍यक बच्‍चों के लिए अलग से मिड-डे मील डायनिंग हॉल बनाया जाएगा। इसके लिए प्रस्‍ताव बनाकर भेजने को कहा गया है।

पश्चिम बंगाल सरकार के इस सर्कुलर को आधार बनाते हुए भारतीय जनता पार्टी ने ममता पर बांटने की राजनीति करने का आरोप लगाया है। राज्य सरकार के इस कदम पर आपत्ति जाहिर करते हुए बंगाल के भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा, ‘धर्म के आधार पर छात्रों के बीच यह भेदभाव क्यों? क्या इस अलगाव के पीछे कोई और बदनियति है? क्या यह एक और साजिश है?’

राज्य सरकार ने कहा, प्रोजेक्ट अल्पसंख्यकों के लिए

सरकार की तरफ से बताया गया कि इस प्रॉजेक्ट के तहत विभाग अल्पसंख्यक बहुल संस्थानों में बुनियादी ढांचे के उन्नयन के लिए काम कर रहा है, ताकि अल्पसंख्यक छात्रों का विकास सुनिश्चित हो सके। आपको बता दें कि बीजेपी अक्सर ही तृणमूल कांग्रेस पर हिंदू विरोधी होने और मुस्लिम तुष्टिकरण करने का आरोप लगाती रही है।

पढ़ें :- भारत में लॉन्च हुई रेंज रोवर वेलार जिसकी मूल्य 79.87 लाख रुपये से शुरू हुई है

पिछले कुछ सालों में बीजेपी ने पश्चिम बंगाल में खुद को मजबूती से स्थापित कर लिया है और वह निश्चित रूप से ममता बनर्जी को कड़ी चुनौती देने की स्थिति में आ गई है। यही वजह है कि वह सरकार से जुड़े किसी भी मुद्दे पर बेहद आक्रामक रुख अपनाती है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X