‘प्रदूषण से हर साल हो रही 17 लाख बच्चो की मौत’

नई दिल्ली| पर्यावरण में बढ़ते प्रदूषण का बच्चों पर काफी बुरा प्रभाव पड़ रहा है| प्रदूषण के चलते ही लाखों बच्चे समय से पहले काल के गाल में समां रहे हैं| इसकी तस्दीक खुद WHO ने की है|




WHO का दावा है कि प्रदूषण के चलते हर साल 17 लाख बच्चो की असमय मौत हो रही है| WHO ने अपनी रिपोर्ट मे बताया कि हर साल वायु प्रदुषण, तंबाकू सेवन से निकलने वाले धुएं, दूषित पानी और साफ़-सफाई की कमियों के चलते पर्यावणीय खतरों से पांच साल की उम्र तक के हर चार मे से एक बच्चा दम तोड़ रहा है|




WHO के मुताबिक़, दुनियाभर मे सिर्फ प्रदूषण के चलते हर साल तकरीबन 17 लाख बच्चों की मौते हो रही है| रिपोर्ट के मुताबिक, एक महीने में एक से पांच साल तक के उम्र के बच्चे दूषित पानी, साफ सफाई की कमी के चलते हैजा, मलेरिया और निमोनिया के शिकार हो रहे हैं, जिससे उनकी मौत भी हो जाती है|

Loading...