प्रवासी मजदूरों के रोजगार के लिए शुरू हुआ ‘गरीब कल्याण रोजगार अभियान’, पीएम मोदी ने किया शुभारंभ

pm modi
प्रवासी मजदूरों के रोजगार के लिए शुरू हुआ ‘गरीब कल्याण रोजगार अभियान’, पीएम मोदी ने किया शुभारंभ

नई दिल्ली। कोरोना संकट के दौरान दूसरे राज्यों से अपने घरों को लौटे प्रवासी मजदूरों को मोदी सरकार रोजगार देने के लिए पूरी तैयारी कर ली है। इसके लिए पीएम मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ‘गरीब कल्याण रोजगार अभियान’ का शुभारंभ किये हैं। इस दौरान पीएम ने कहा कि लद्दाख में हमारे वीरों ने जो बलिदान दिया है, मैं गौरव के साथ इस बात का जिक्र करना चाहूंगा कि ये पराक्रम बिहार रेजीमेंट का है, हर बिहारी को इसका गर्व होता है।

Poor Kalyan Rozgar Abhiyan Started For Employment Of Migrant Laborers Pm Modi Launched :

जिन सैनिकों ने अपना बलिदान दिया है उन्हें मैं श्रद्धांजलि देता हूं। पीएम ने कहा कि गरीब कल्याण रोजगार अभियान के तहत दूसरे राज्यों से लौटे मजदूरों से बात की।पीएम मोदी ने दिल्ली से बिहार लौटी स्मिता कुमारी के विचारों को सुना और उनसे बातचीत की। पीएम मोदी ने हरियाणा से लौटे जर्नादन शर्मा से बातचीत की।

गरीब कल्याण योजना के तहत प्रवासी मजदूरों को 125 दिनों का कार्य मिलेगा। इसे देश के राज्यों के उन जिलों में संचालित किया जाएगा, जिनमें प्रवासी कामगारों संख्या 25 हजार से अधिक है। गरीब कल्याण रोजगार अभियान को फिलहाल छह राज्यों के 116 जिलों में लागू किया जाएगा।

इनमें बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश, राजस्थान, झारखंड और ओड़िशा शामिल हैं। अभियान में रोजगार एवं अवस्थापना सृजन के तहत 25 प्रकार के काम कराए जाएंगे। इस योजना पर 50 हजार करोड़ रुपये की राशि व्यय की जाएगी।

नई दिल्ली। कोरोना संकट के दौरान दूसरे राज्यों से अपने घरों को लौटे प्रवासी मजदूरों को मोदी सरकार रोजगार देने के लिए पूरी तैयारी कर ली है। इसके लिए पीएम मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ‘गरीब कल्याण रोजगार अभियान’ का शुभारंभ किये हैं। इस दौरान पीएम ने कहा कि लद्दाख में हमारे वीरों ने जो बलिदान दिया है, मैं गौरव के साथ इस बात का जिक्र करना चाहूंगा कि ये पराक्रम बिहार रेजीमेंट का है, हर बिहारी को इसका गर्व होता है। जिन सैनिकों ने अपना बलिदान दिया है उन्हें मैं श्रद्धांजलि देता हूं। पीएम ने कहा कि गरीब कल्याण रोजगार अभियान के तहत दूसरे राज्यों से लौटे मजदूरों से बात की।पीएम मोदी ने दिल्ली से बिहार लौटी स्मिता कुमारी के विचारों को सुना और उनसे बातचीत की। पीएम मोदी ने हरियाणा से लौटे जर्नादन शर्मा से बातचीत की। गरीब कल्याण योजना के तहत प्रवासी मजदूरों को 125 दिनों का कार्य मिलेगा। इसे देश के राज्यों के उन जिलों में संचालित किया जाएगा, जिनमें प्रवासी कामगारों संख्या 25 हजार से अधिक है। गरीब कल्याण रोजगार अभियान को फिलहाल छह राज्यों के 116 जिलों में लागू किया जाएगा। इनमें बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश, राजस्थान, झारखंड और ओड़िशा शामिल हैं। अभियान में रोजगार एवं अवस्थापना सृजन के तहत 25 प्रकार के काम कराए जाएंगे। इस योजना पर 50 हजार करोड़ रुपये की राशि व्यय की जाएगी।