मेरठ में लगे पोस्टर, लिखा- ‘यूपी में रहना है तो योगी-योगी कहना है’

मेरठ। ‘गोरखपुर में रहना है तो योगी योगी कहना है’ ये तो आपने भी सुना होगा लेकिन अब नए स्लोगन के अनुसार ‘यूपी में रहना है तो योगी योगी कहना है।’ ऐसे नारे मेरठ में लगे पोस्टर्स पर लिखा गया है। मेरठ शहर में तमाम ऐसे पोस्टर्स हिंदू युवा वाहिनी के कथित जिलाध्यक्ष की तरफ से लगवाया गया है। इन पोस्टर में सीएम आदित्यनाथ योगी और नरेंद्र मोदी की फोटो लगी है। खास बात यह है कि पोस्टर कुछ पुलिस अफसरों के घर के पास लगाए गए हैं। इनमें से एक पोस्टर डिस्ट्रिक्ट कमिशनर के सरकारी घर के पास भी लगा है।




बताया जा रहा है कि ये पोस्टर नीरज शर्मा पांचली की तरफ से लगाए गए हैं। वे खुद को हिंदू युवा वाहिनी का जिलाध्यक्ष होने का दावा करते हैं। पोस्टर बड़े एडमिनिस्ट्रेटिव अफसरों के घर के बाहर लगे हैं। इस मामले में जब हिंदू युवा वाहिनी के प्रांत प्रभारी नागेंद्र तोमर से बात की गई तो उन्होंने बताया कि नीरज शर्मा पांचली जिलाध्यक्ष नहीं है। नीरज को काफी दिन पहले ही हिंदू युवा वाहिनी के जिलाध्यक्ष पद से हटा दिया गया था। तोमर ने बताया कि इस समय हिंदू युवा वाहिनी के जिलाध्यक्ष राहुल हैं। नीरज शर्मा का संगठन से कोई लेना-देना नहीं है।



पुलिस कर रही मामले की जांच
यह मामला सामने आने के बाद पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। पुलिस अफसरों का कहना है कि जांच के बाद केस दर्ज किया जाएगा। मेरठ एसपी रवींद्र गुप्ता ने कहा कि इंटेलिजेंस यूनिट से डिटेल रिपोर्ट मांगी गई है। फिलहाल इन विवादित पोस्टर्स को कई जगह से उतार दिया गया है।