प्रद्युम्न हत्याकांड: पीड़ित पिता की याचिका पर सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली। प्रद्युम्न हत्याकांड पर रेयान इंटरनेशनल स्कूल के प्रबंधन और हरियाणा पुलिस के रवैये से असंतुष्ट पीड़ित पिता ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। प्रद्युम्न के पिता की ओर से दाखिल की गई याचिका में उन्होंने अपने बेटे की हत्या की सीबीआई जांच करवाने की मांग की है। अदालत ने पीड़ित पक्ष की याचिका को स्वीकार करते हुए दोपहर बाद याचिका पर सुनवाई करने को कहा है।

मिली जानकारी के मुताबिक प्रद्युम्न के पिता वरुण ठाकुर की ओर से सोमवार की सुबह सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दाखिल की गई है। इस याचिका में वरुण ठाकुर की ओर से गुरुग्राम पुलिस के ढ़ीले रवैये और रेयान इंटरनेशनल स्कूल के प्रबंधन के संदिग्ध वर्ताव के आधार पर उनके बेटे की हत्या की सीबीआई जांच करवाने की मांग की गई है। वरुण ठाकुर की ओर से उनके बेटे की हत्या के बाद सामने आई पुलिस की थ्यौरी पर भी सवाल उठाया गया है।

{ यह भी पढ़ें:- 12 घंटे में 8 जगह छापेमारी, भ्रष्टाचार के आरोप में रिटायर्ड जज समेत पांच अरेस्ट }

अदालत ने भी प्रद्युम्न हत्याकांड से जुड़ी देशभर के माता—पिता की चिंताओं को ध्यान में रखते हुए याचिका पर त्वरित सुनवाई का फैसला लेते हुए दोपहर बाद 12.45 बजे सुनवाई करने का समय निर्धारित किया है।

वहीं दूसरी ओर हरियाणा की मनोहर खट्टर सरकार ने अपने रवैये में सख्ती लाते हुए रविवार को प्रदर्शनकारी अभिवावकों पर लाठीचार्ज करने वाले पुलिसकर्मियों और इलाके के एसएचओ को निलंबित कर दिया है। इसके साथ ही पुलिस ने सोमवार की सुबह रेयान स्कूल के दो अधिकारियों को भी हिरासत में ले लिया है।

{ यह भी पढ़ें:- प्रद्युम्न की हत्या के 10 दिन बाद खुला रेयान स्कूल, पिता कर रहे स्कूल बंद करने की मांग }

बताया जा रहा है प्रद्युम्न हत्याकांड को लेकर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी मनोहर खट्टर से बातचीत की है। वहीं दूसरी ओर तीन दिनों में इस मामले पर देशभर के परिजनों में उमड़ी परानुभूति ने केन्द्र सरकार को भी रेयाल इंटरनेशनल स्कूल के खिलाफ कार्रवाई करने को मजबूर कर दिया है।

सूत्रों की माने तो रेयान इंटरनेशनल स्कूल के हेड आॅफिस व शीर्ष प्रबंधन के अन्य मुख्यालयों की छानबीन करने के लिए 14 टीमें गठित की गईं हैं। जो रेयान ग्रुप की पूरी कार्यप्रणाली की जांच करेंगी।

{ यह भी पढ़ें:- CBI करेगी प्रद्युम्न हत्याकांड की जांच, तीन महीने सरकार के अधीन रहेगा रेयान स्कूल }