1. हिन्दी समाचार
  2. कांग्रेस विधायक पर प्रज्ञा का पलटवार, कहा- ब्यावरा आ रही हूं, जला लीजिए

कांग्रेस विधायक पर प्रज्ञा का पलटवार, कहा- ब्यावरा आ रही हूं, जला लीजिए

Pragya Counterattacks On Congress Mla Said I Am Coming Burn Me

By रवि तिवारी 
Updated Date

नई दिल्ली। भाजपा सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर और कांग्रेस के बीच चली आ रही जुबानी जंग खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। कांग्रेस के विरोध प्रदर्शन के बीच मध्यप्रदेश में मुल्तानपुर के कांग्रेस विधायक गोवर्धन दांगी ने विवादित बयान देकर मामले को और बढ़ा दिया है। दांगी ने साध्वी प्रज्ञा को जला देने की बात कही थी।

पढ़ें :- सरकारी नौकरी: यहां निकली प्रोफेसर के पदों पर कई भर्तियां, ऐसे करें जल्द आवेदन...

जवाब में साध्वी ने तीखी प्रतिक्रिया वाले अपने ट्वीट में लिखा कि कांग्रेसियों को ज़िंदा जलाने का पुराना अनुभव है। 1984 मैं सिखों को और नैना साहनी को तंदूर में जलाने तक का। गोवर्धन दांगी मुझे जलाएंगे। ठीक है तो मैं आ रही हूं ब्यावरा उनके निवास मुल्तानपुरा पर दिनांक 8 दिसंबर 2019 समय सायं 4:00 बजे जला लीजिए।”

जिंदा जलाने की धमकी देने के बाद मांगी माफी

बता दें कि मध्य प्रदेश के राजगढ़ जिले के ब्यावरा से कांग्रेस विधायक गोवर्धन दांगी ने भोपाल से बीजेपी सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को जला कर मारने की धमकी दी थी। हालांकि सोशल मीडिया में बयान वायरल होने के बाद शुक्रवार को विधायक ने माफी भी मांग ली। गुरुवार को राजगढ़ जिले के ब्यावरा में दांगी की अगुवाई में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रज्ञा ठाकुर का पुतला दहन किया था।

दांगी ने कहा था, ‘प्रज्ञा का पूरा पुतला ही नहीं, वह कभी (यहां) आईं तो प्रज्ञा ठाकुर को जला भी देंगे।’ इसके बाद शुक्रवार को माफी मांगते हुए कहा, ‘मैंने यह बयान आवेश में आकर अचानक दे दिया था। मेरे बोलने में कुछ गलतियां हो गई थीं जिसके लिए मैं माफी मांगता हूं।’ इससे पहले राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताने वाले बयान पर सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने लोकसभा में माफी मांगा था। पार्टी और सरकार की ओर से तलब किए जाने के बाद प्रज्ञा सिंह ने माफी मांगी थी।  

व्यावरा विधायक की टिप्पणी से कांग्रेस का किनारा

ब्यावरा से कांग्रेस विधायक गोवर्धन दांगी शुक्रवार को बीजेपी सांसद प्रज्ञा ठाकुर के बयान के विरोध में प्रदर्शन के लिए निकले थे। विरोध करते-करते वह इतना आगे निकल गए कि मीडिया के सामने बोले, ‘अभी तो सिर्फ प्रज्ञा ठाकुर का पुतला जलाकर विरोध प्रदर्शन किया है। अगर वो यहां आईं तो उन्हें भी जला दिया जाएगा।’ दांगी के बयान देते ही हलचल मच गई। उन्हें अपनी ग़लती समझ आ गई और फौरन अपने बयान से पलट गए। गोवर्धन दांगी ने तत्काल बयान के लिए माफ़ी मांग ली। पार्टी विधायक के इस आपत्तिजनक बयान पर कांग्रेस ने भी तत्काल प्रतिक्रिया दी. मध्‍य प्रदेश के मंत्री पीसी शर्मा ने कहा, ‘यह उनका (दांगी) निजी वक्तव्य है।’  

पढ़ें :- 29 अक्टूबर का राशिफल: आज का दिन ये दो राशि के जातकों के लिए है बेहद शुभ, इस राशि के जातक रहें सावधान

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...