चाय की दूकान पर मिनी एआरटीओ खोलकर लाइसेंस बनाते हैं बाबू!

प्रतापगढ़: अपने कारनामो के चलते बदनाम प्रतापगढ़ का एआरटीओ कार्यालय का एक और कारनामा सामने आया है। यहाँ तैनात बाबु उमेश मिश्र द्वारा चाय की दूकान पर मिनी एआरटीओ खोलकर लाइसेंस से लेकर सारे अवैध कार्य किये जाते है वही कार्यालय का चक्कर लगाने वाले लोगों को बाबु के नदारद होने से सामना पड़ता है और ऐसे कठिनाई से बचने के लिए मजबूरी में आने वाले लोगों को दलालो सहारा लेना पड़ता है। यह सब कुछ जानते हुए विभागीय अधिकारियों द्वारा इस चर्चित बाबु को कोई कोर कसर नहीं छोड़ा जाता यहाँ तक की इस पूरे मामले को जानते हुए भी अधिकारी इसकी दबंगई के डर से कुछ भी करने को तैयार नहीं होते।




ये है चाय और नाई दूकान पर स्थित प्रतापगढ़ का मिनी एआरटीओ ऑफिस ,जिसे कोई दलाल नहीं बल्कि यहाँ तैनात उमेश बाबू चलाते है। यहाँ आप सारे कागजात आसानी से बनवा सकते है जिसके लिए सिर्फ दलाली देनी पड़ेगी । ऐसा नहीं की यह कोई वीरान जगह हो ,यह सब खुलेआम होता है यहाँ के दबंग बाबू उमेश मिश्र द्वारा। इस मिनी ये आरटीओ में बाबू अपने कुछ दल्लो के साथ लंबी डील करते है और उसके कागजात जाकर ऑफिस में बनांते है और यह सब कुछ होता है बाबू के समय में ।



खुद की तस्वीरे कैमरे में कैद होता देख यहाँ के बाबू चाय की दूकान पर सेविंग करवाने लगे और जल्दी जल्दी एक दलाल के साथ कैश जमा करवाने का बहाना बताकर भाग निकले लेकिन शायद उन्हें यह नहीं पता की ऑफिस के समय में किसी भी बाबु आधा किलोमीटर दूर जाकर सेविंग करवाने का परमिशन नहीं है और न ही दलाली करने की।