प्रतापगढ़ में सुरक्षित नहीं हैं अधिकारी, मिल रही जान से मारने की धमकी

प्रतापगढ़:उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ ​जिले में सरकारी अधिकारी तक खुद को सुरक्षित नहीं महसूस नहीं कर रहे हैं। यहां आए दिन अधिकारियों को जान से मारने की ध​मकियां मिल रहीं हैं। हाल ही में जिले में हुई दो पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद भी जिला प्रशासन चेतने का नाम नहीं ले रहा है। ताजा मामला प्रतापगढ़ शहर का है जहाँ जनपद के जिला विद्यालय निरीक्षक डॉ बृजेश मिश्र को अज्ञात व्यक्ति ने फोन कर मंत्री और नेता की बात न सुनने पर हत्या की धमकी दी है। बकौल अधिकारी उन्हें फोन पर परिवार समेत सभी अंजाम भुगतने की धमकी से मिली है। धमकी का ऑडियो जिले के अधिकारियों को मिला है। जिसके बाद जिलाधिकारी ने जांच का आदेश दिया है। मामला परीक्षा केंद्रों के निर्धारण से जुड़ा मालूम पड़ रहा है। डॉ ब्रजेश मिश्र ने इस मामले को प्रमुख सचिव माध्यमिक शिक्षा के संज्ञान में लाकर से न्याय और सुरक्षा का गुहार लगाई है।




बुधवार शाम 4 बजकर 36 मिनट पर जिला विद्यालय निरीक्षक डॉ ब्रजेश मिश्र के पर्सनल नम्बर पर अज्ञात युवक ने फोन करके जमकर गालिया देते हुए पूरे परिवार को जान से मारने की धमकी दी। फोन पर गाली दे रहे सख्स का कहना था नेता और मंत्री की बात नही सुनोगे तो जनपद में आये क्यों हो और जमकर गालिया देते हुए अंजाम भुगतने की चेतवानी दी, वही धमकी से डरे सहमे जिला विद्यालय निरीक्षक पूरे मामले को लेकर जिलाधिकारी से लेकर शिक्षा सचिव तक फैक्स भेजते हुए अज्ञात के खिलाफ तहरीर दिया है, धमकी के बाद जिला विद्यालय निरीक्षक डॉ ब्रजेश मिश्र डरे हुए है कि धमकी देने वालो का नाम बताने से कतरा रहे है जबकि पूरे मामले को 2017 में परीक्षा केंद्र के चयन से जोड़कर देख रहे है। जिस्की शिकायत संयुक्त शिक्षा निदेशक समेत प्रमुख सचिव से किया है ।

अधिकारी से पूछताछ की गई तो भी उसने भी नही बताया, व्हाट्सऐप पर उसकी ऑडियो वॉयरल हो चुकी है आप अगर सुनेंगे तो आपको खुद पता चलेगा उसने अपना नाम नही बताया। केवल भद्दी भद्दी गालिया और जान से मारने की धमकी देता रहा और परिवार को खत्म करने धमकी दे रहा था। ये काफी दुखद है और इस बात से इस समय मनसिक पीड़ा में हूँ। इस सम्बन्ध में मैंने जिलाधिकारी सीडीओ एसपी सचिव माध्यमिक शिक्षा प्रमुख सचिव गृह को पत्र भेज दिया है।




वही पूरे जिला स्तरीय अधिकारियो को दी जाने वाली धमकी के मामले में प्रतापगढ़ के जिलाधिकारी डॉ आदर्श सिंह का कहना है की सेंटर चयन के सम्बन्ध में धमकी दिया गया है जिसमे मुकदमा दर्ज कराया जा रहा है और ऐसे लोगो के खिलाफ शख्त कार्यवाही की जायेगी और आगामी परीक्षा सकुशल सम्पन्न जायेगी।डी एम् का यह भी कहना है की जो भी परीक्षाएं होती है और केंद्र का चयन होता है उसमे डी एम् अध्यक्ष होता है इस तरह से धमकी देने वालो को ग़लतफ़हमी नहीं पलानी चाहिए,पूरे मामले की जांच के लिए पुलिस अधीक्षक से बात करके कार्यवाही की जा रही है।

प्रतापगढ़ के डीएम डॉ आदर्श सिंह ने बताया कि डीआइओएस को धमकी की सुचना मिली है अभी मिलकर गए है आवेदन मुझे दिए है सेंटर के चयन के सम्बन्ध में धमकी दिया है इस मामले में सख्त कार्यवाही और एफआईआर होगी जो भी आरोपी होगा उसके खिलाफ विधिक कार्यवाही की जायेगी।

Loading...