1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. उत्तर प्रदेश में जल्द ही पंचायत चुनाव कराने की तैयारी, 25 दिसंबर को समाप्त हो रहा प्रधानों का कार्यकाल

उत्तर प्रदेश में जल्द ही पंचायत चुनाव कराने की तैयारी, 25 दिसंबर को समाप्त हो रहा प्रधानों का कार्यकाल

By शिव मौर्या 
Updated Date

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में पंचायत ​चुनाव को लेकर गांवों में सरगर्मी बढ़ती जा रही है। ग्राम प्रधान के प्रत्याशी अपने अपने दावों को लेकर ग्रामीणों के बीच पैठ बनाना शुरू कर दिए हैं। दरअसल, 25 दिसंबर को ग्राम प्रधानों का कार्यकाल समाप्त हो रहा है। वहीं, पंचायती रात विभाग जल्द ही चुनाव कराने की तैयारी में जुटी हुई है। बताया जा रहा है कि 31 मार्च तक चुनाव कराने की तैयारी है।

पढ़ें :- बच्चों का धर्म परिवर्तन कराने के आरोप में स्कूल पर पथराव, जमकर हुआ हंगामा

26 दिसंबर से सभी ग्राम पंचायत भंग हो जााएंगी। इसके बाद से नई ग्राम पंचायत के गठन की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। गांवों में मतदाता सूची के पुनरीक्षण का काम तेजी से चल रहा है जबकि निर्वाचन आयोग को भी ग्राम पंचायतों के भंग होने की तिथि की जानकारी भी दे दी गई है। वहीं, 25 दिसबंर को ग्राम प्रधानों का कार्यकाल खत्म होते ही नए कामों पर रोक लग जायेगी।

प्रदेश सरकार की ओर से शासनादेश जारी होगा। प्रदेश के अधिकतर जिलों में 25 दिसंबर 2015 को ग्राम प्रधानों को शपथ दिलाई गई थी। पांच वर्ष पूरे होने के बाद 25 दिसंबर 2020 को कार्यकाल समाप्त हो जाएगा। सीएम योगी इन दिनों विभागीय समीक्षा कर रहे हैं। इसी क्रम में पंचायती राज विभाग की समीक्षा के दौरान उन्होंने अधिकारियों को 31 मार्च 2021 तक पंचायतों के चुनाव कराने का निर्देश दिया है। उत्तर प्रदेश सरकार 31 मार्च तक पंचायत चुनाव करा लेने की तैयारी में जुटी है।

 

पढ़ें :- नवाचार में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस व मशीन लर्निंग की अपार संभावनाएं : Prof. Vineet Kansal
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...