प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रीवा में सबसे बड़े सोलर प्लांट का किया उद्घाटन, कहा-रीवा ने रचा इतिहास

pm modi
नॉर्थ ईस्ट में देश के विकास का ग्रोथ इंजन बनने की क्षमता है : पीएम मोदी

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज मध्य प्रदेश के रीवा में 750 MW के सोलर प्रोजेक्ट का उद्घाटन किया। यह सोलर प्रोजेक्ट एशिया का सबसे बड़ा प्रोजेक्ट है। इस उद्घाटन समारोह में मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान व कई केंद्रीय मंत्री भी इस कार्यक्रम में शामिल हुए।

Prime Minister Narendra Modi Inaugurated The Largest Solar Plant In Rewa Said Rewa Created History :

इस अवसर पर पीएम नरेंद्र मोदी ने मध्यप्रदेश के सामर्थ्य पर विश्वास जताया और कहा कि यह विश्व की सुरक्षा का नींव है जो रीवा में रखा गया है क्योंकि पर्यावरण की स्वच्छता में इसका अहम योगदान होगा। पीएम मोदी ने कहा कि आज रीवा ने इतिहास रच दिया है। रीवा की पहचान मां नर्मदा के नाम से और सफेद बाघ से रही और अब इसमें एशिया का सबसे बड़े पावर प्रोजेक्ट का नाम जुड़ गया। ऊपर से देखने से लगता है कि खेतों में सोलर पैनल मौजूद हैं।

इसके लिए मैं मध्य प्रदेश और रीवा के लोगों को बधाई देता हूं शुभकामनाएं देता हूं। इस दशक में ऊर्जा का बहुत बड़ा केंद्र बनाने में मदद करेगा। इसके साथ ही पीएम मोदी ने कहा कि ये सभी प्रोजेक्ट जब तैयार हो जायेंगे तो मध्य प्रदेश निश्चित रूप से सस्ती और साफ सुथरी बिजली का हब बन जाएगा।

इसका सबसे अधिक लाभ मध्य प्रदेश के गरीब, मध्यम वर्ग के परिवारों, किसानों, आदिवासियों को होगा। उन्होंने आगे कहा, ‘इस दशक में रीवा का यह सोलर प्लांट इसे ऊर्जा का बहुत बड़ा केंद्र बनाने में मदद करेगा। इस सोलर प्लांट से मध्य प्रदेश के लोगों को, यहां के उद्योगों को तो बिजली मिलेगी ही, दिल्ली में मेट्रो रेल तक को इसका लाभ मिलेगा।’

दिल्ली मेट्रो को करेगी बिजली आपूर्ति
प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से गुरुवार को जारी एक बयान में कहा गया कि इस प्रोजेक्ट में एक सौर पार्क के अंदर स्थित 500 हेक्टेयर जमीन पर 250-250 मेगावाट की तीन सौर उत्पादन इकाइयां शामिल हैं और यह प्रोजेक्ट हर साल करीब 15 लाख टन कार्बन डाइऑक्साइड के बराबर कार्बन उत्सर्जन को कम करेगी।’

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज मध्य प्रदेश के रीवा में 750 MW के सोलर प्रोजेक्ट का उद्घाटन किया। यह सोलर प्रोजेक्ट एशिया का सबसे बड़ा प्रोजेक्ट है। इस उद्घाटन समारोह में मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान व कई केंद्रीय मंत्री भी इस कार्यक्रम में शामिल हुए। इस अवसर पर पीएम नरेंद्र मोदी ने मध्यप्रदेश के सामर्थ्य पर विश्वास जताया और कहा कि यह विश्व की सुरक्षा का नींव है जो रीवा में रखा गया है क्योंकि पर्यावरण की स्वच्छता में इसका अहम योगदान होगा। पीएम मोदी ने कहा कि आज रीवा ने इतिहास रच दिया है। रीवा की पहचान मां नर्मदा के नाम से और सफेद बाघ से रही और अब इसमें एशिया का सबसे बड़े पावर प्रोजेक्ट का नाम जुड़ गया। ऊपर से देखने से लगता है कि खेतों में सोलर पैनल मौजूद हैं। इसके लिए मैं मध्य प्रदेश और रीवा के लोगों को बधाई देता हूं शुभकामनाएं देता हूं। इस दशक में ऊर्जा का बहुत बड़ा केंद्र बनाने में मदद करेगा। इसके साथ ही पीएम मोदी ने कहा कि ये सभी प्रोजेक्ट जब तैयार हो जायेंगे तो मध्य प्रदेश निश्चित रूप से सस्ती और साफ सुथरी बिजली का हब बन जाएगा। इसका सबसे अधिक लाभ मध्य प्रदेश के गरीब, मध्यम वर्ग के परिवारों, किसानों, आदिवासियों को होगा। उन्होंने आगे कहा, 'इस दशक में रीवा का यह सोलर प्लांट इसे ऊर्जा का बहुत बड़ा केंद्र बनाने में मदद करेगा। इस सोलर प्लांट से मध्य प्रदेश के लोगों को, यहां के उद्योगों को तो बिजली मिलेगी ही, दिल्ली में मेट्रो रेल तक को इसका लाभ मिलेगा।' दिल्ली मेट्रो को करेगी बिजली आपूर्ति प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से गुरुवार को जारी एक बयान में कहा गया कि इस प्रोजेक्ट में एक सौर पार्क के अंदर स्थित 500 हेक्टेयर जमीन पर 250-250 मेगावाट की तीन सौर उत्पादन इकाइयां शामिल हैं और यह प्रोजेक्ट हर साल करीब 15 लाख टन कार्बन डाइऑक्साइड के बराबर कार्बन उत्सर्जन को कम करेगी।'