1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. 150 देशों की GDP से ज्यादा है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ‘आत्मनिर्भर भारत’ पैकेज

150 देशों की GDP से ज्यादा है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ‘आत्मनिर्भर भारत’ पैकेज

By रवि तिवारी 
Updated Date

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस महासंकट से निपटने के लिए 20 लाख करोड़ के भारी-भरकम पैकेज (Atmnirbhar Bharat Package) का ऐलान किया है। पीएम मोदी ने बताया कि यह 20 लाख करोड़ रुपये का आत्‍मनिर्भर भारत पैकेज देश की कुल GDP का करीब 10 प्रतिशत है। अगर आंकड़ों पर नजर डालें तो आत्मनिर्भर भारत अभियान पैकेज पाकिस्‍तान, वियतनाम, पुर्तगाल, ग्रीस, रोमानिया और न्‍यूजीलैंड जैसे 150 देशों की जीडीपी से ज्‍यादा है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र ने जिस राहत पैकेज का ऐलान किया है वह 300 बिलियन अमेरिकन डॉलर (USD) का है जबकि वर्ष 2019 में पाकिस्तान की कुल GDP 284.214 बिलियन अमेरिकन डॉलर थी। हालांकि, इससे पहले 2018 में पाक की GDP 300 बिलियन USD से ज्यादा थी लेकिन कोरोना संकट को देखते हुए अंदाजा लगाया जा रहा है कि 2020 में यह 200 बिलियन USD भी नहीं पहुंचेगी। उधर, भारत की GDP करीब 3,000 बिलियन डॉलर है।

पाकिस्तान के बजट से करीब 6 गुना ज्यादा

पाकिस्‍तान के अलावा मोदी का आत्‍मनिर्भर भारत अभियान पैकेज 149 अन्‍य देशों की जीडीपी से ज्‍यादा है। इनमें वियतनाम (261 अरब डॉलर) पुर्तगाल, ग्रीस, रोमानिया और न्‍यूजीलैंड समेत 149 देशों से ज्‍यादा है। भारत की तुलना अक्‍सर हमारे पड़ोसी देश पाकिस्‍तान से होती है। पीएम मोदी के पैकेज की तुलना पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था से करें तो साल 2019 में पाकिस्तान सरकार ने 7022 बिलियन पाकिस्तानी रुपये का बजट पेश किया था, भारतीय रुपये में यह करीब 3.30 लाख करोड़ बैठता है। भारत का राहत पैकेज पाकिस्तान के बजट से करीब 6 गुना ज्यादा है।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने पहले यह कहकर देश में लॉकडाउन लगाने से इनकार कर दिया था कि देश की इकॉनमी आर्थिक दबाव झेल नहीं सकेगी। हालांकि, हालात बिगड़ने पर उसे भी लॉकडाउन की राह पकड़नी पड़ी। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कोरोना वायरस के देश में फैलने के साथ ही इस बात का ऐलान कर दिया था कि पाक के पास लॉकडाउन का विकल्प नहीं है।

पाक‍िस्‍तान में 32,916 लोग कोरोना पॉजिटिव

खान ने कहा था कि उसकी इकॉनमी इस हाल में नहीं है कि लॉकडाउन की वजह से आर्थिक दबाव झेल सके। पाकिस्तान ने 1 लाख 20 हजार करोड़ के पैकेज का ऐलान किया था और बाद में 700 करोड़ और मजदूरों के लिए देने का वादा किया था। इमरान ने बाकी दुनिया से भी मदद मांगी थी और यूरोपियन यूनियन ने 163 मिलियन और अमेरिका ने 8 मिलियन USD की मदद दी थी।

पाकिस्तान में 9 मई तक के लिए लॉकडाउन का ऐलान किया गया था। इसके बावजूद हालात नहीं सुधरे लेकिन फिर भी लॉकडाउन में ढील दे दी गई। अब तक देश में 32,916 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए जा चुके हैं और 733 लोगों की मौत हो चुकी है। आर्थिक संकट के चलते फिलहाल चुनिंदा बिजनस खोलने की इजाजत दे दी गई है।  

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...