भारतीय मूल की प्रीति पटेल को ब्रिटेन के नए पीएम बोरिस जॉनसन ने दी बड़ी जिम्मेदारी, बनाया गृहमंत्री

priti patel
भारतीय मूल की प्रीति पटेल को ब्रिटेन के नए पीएम बोरिस जॉनसन ने दी बड़ी जिम्मेदारी, बनाया गृहमंत्री

नई दिल्ली। भारतीय मूल की प्रीति पटेल को ब्रिटेन के नए पीएम बोरिस जॉनसन ने अपनी कैबिनेट में बड़ी जिम्मेदारी दी है। बोरिस जॉनसन ने उन्हें गृहमंत्री नियुक्त किया है। प्रीति पटेल पहली ऐसी भारतीय मूल की महिला हैं, जिन्हें ब्रिटेन सरकार ने गृहमंत्री का पद दिया है। पूर्व प्रधानमंत्री टेरीजा मे की ब्रेक्जिट रणनीति के मुखर आलोचकों में शामिल प्रीति पटेल ने बुधवार को नए प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की कैबिनेट में गृहमंत्री के रूप में कार्यभार संभाला।

Priti Patel Appointed Home Secretary In British Pm Boris Johnson Cabinet :

मूल रूप से गुजरात से ताल्लुक रखने वाली प्रीति 47 साल की है। प्रीति का जन्म 29 मार्च 1972 को लंदन में हुआ था। इनके माता—पिता गुजरात के निवासी हैं। लेकिन बाद में युगांडा चले गए थे। जिसके बाद 60 के दशक में उनके माता-पिता युगांडा से ब्रिटेन आए थे। आपको बता दें, प्रीति प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बड़ी प्रशसंक हैं, वह कई बार उनकी तारीफ कर चुकी हैं।

बता दें कि प्रीति पार्टी नेतृत्व के लिए ‘बैक बोरिस’ अभियान की प्रमुख सदस्य थीं और पहले से संभावना थी कि उन्हें नई कैबिनेट में कोई बड़ी जिम्मेदारी दी जा सकती है। गौरतलब है कि प्रीति पहली बार 2010 में एसेक्स में विथम के लिए कंजर्वेटिव सांसद के रूप में चुना गया था और ब्रिटेन के तत्कालीन प्रधानमंत्री डेविड कैमरन की अगुवाई वाली सरकार में भारतीय मूल की सांसद थीं।

नई दिल्ली। भारतीय मूल की प्रीति पटेल को ब्रिटेन के नए पीएम बोरिस जॉनसन ने अपनी कैबिनेट में बड़ी जिम्मेदारी दी है। बोरिस जॉनसन ने उन्हें गृहमंत्री नियुक्त किया है। प्रीति पटेल पहली ऐसी भारतीय मूल की महिला हैं, जिन्हें ब्रिटेन सरकार ने गृहमंत्री का पद दिया है। पूर्व प्रधानमंत्री टेरीजा मे की ब्रेक्जिट रणनीति के मुखर आलोचकों में शामिल प्रीति पटेल ने बुधवार को नए प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की कैबिनेट में गृहमंत्री के रूप में कार्यभार संभाला। मूल रूप से गुजरात से ताल्लुक रखने वाली प्रीति 47 साल की है। प्रीति का जन्म 29 मार्च 1972 को लंदन में हुआ था। इनके माता—पिता गुजरात के निवासी हैं। लेकिन बाद में युगांडा चले गए थे। जिसके बाद 60 के दशक में उनके माता-पिता युगांडा से ब्रिटेन आए थे। आपको बता दें, प्रीति प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बड़ी प्रशसंक हैं, वह कई बार उनकी तारीफ कर चुकी हैं। बता दें कि प्रीति पार्टी नेतृत्व के लिए ‘बैक बोरिस’ अभियान की प्रमुख सदस्य थीं और पहले से संभावना थी कि उन्हें नई कैबिनेट में कोई बड़ी जिम्मेदारी दी जा सकती है। गौरतलब है कि प्रीति पहली बार 2010 में एसेक्स में विथम के लिए कंजर्वेटिव सांसद के रूप में चुना गया था और ब्रिटेन के तत्कालीन प्रधानमंत्री डेविड कैमरन की अगुवाई वाली सरकार में भारतीय मूल की सांसद थीं।