सावधान! WhatsApp की प्राईवेट चैट पर अब SEBI रखेगा कड़ी नजर

नई दिल्ली। व्हाट्सऐप(WhatsApp) का बिजनेस मॉडल लांच होने के बाद अब इसका प्रयोग व्यापार संबंधी कामों के लिए भी होने लगा है। इन पर नजर रखने के लिए भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड यानी सेबी (SEBI) सक्रिय हो गया है। बता दें कि व्हाट्सऐप का बिजनेस मॉडल शुरू होते ही लोग इसे ठगी और धोखाधड़ी का जरिया बनाने लगे हैं। सेबी ने ऐसे फर्जीवाड़ों पर लगाम लगाने की योजना बनानी शुरू कर दी है।

सेबी ने अपनी व्हिसलब्लोअर व्यवस्था को मजबूत करने और निवेशकों तथा बाजार की बिचौलिया इकाइयों में काम करने वाले लोगों को ऐसे लोगों का भेद बताने को प्रोत्साहित करने का कदम उठाया है जो व्हाट्सऐप और टेलीग्राम जैसे ऑनलाइन एप और प्राइवेट चैट ग्रुप्स आदि के जरिये निवेश के परामर्श और संवेदीनशील सूचनाओं का आदान प्रदान करते हैं।

{ यह भी पढ़ें:- कोई आपके आधार कार्ड से न कर जाए फ़्राड, जाने कहां कहां हो चुका है इस्तेमाल }

सूत्रों के मुताबिक सेबी, एनएसई और बीएसई कंपनियों के नतीजे व्हाट्स ऐप पर लीक होने की जांच कर रही है। सेबी ने दोनों एक्सचेंज से उन 24 कंपनियों के ट्रेड डेटा की जांच करने के लिए कहा है जिनके नतीजे वॉट्सएप और सोशल मीडिया पर लीक हो गए थे। इस सिलसिले में दोनों एक्सचेंज ने ऐसी कंपनियों से जानकारी मांगी है।

Loading...