1. हिन्दी समाचार
  2. अब अखिलेश के गढ़ पहुंची प्रियंका, कांग्रेस का मिशन 2022 मजबूती की ओर

अब अखिलेश के गढ़ पहुंची प्रियंका, कांग्रेस का मिशन 2022 मजबूती की ओर

Priyanka Arrives In Akhileshs Stronghold Congress 2022 Mission Towards Strengthening

नई दिल्ली। कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वैसे तो आजतक कोई चुनाव नही लड़ी लेकिन जिस तेजी के साथ वो यूपी की सियासत पर कदम बढ़ा रही हैं, उसे देख कर तो लग रहा है कि 2022 में कांग्रेस यूपी में जरूर कुछ अलग करने वाली है। हाल ही में योगी सरकार के ऊपर प्रियंका ने कई हमले किये हैं और जिन मामलो को प्रियंका ने उठाया, उन मामलो पर योगी सरकार को ऐक्शन भी लेना पड़ा। वहीं अब प्रियंका गांधी, सपा प्रमुख अखिलेश यादव के गढ़ आजमगढ़ भी पंहुच गयी हैं। सीएए विरोध के दौरान महिलाओं के साथ हुई अभद्रता को लेकर उन्होने आवाज उठाई है।

पढ़ें :- मुख्यमंत्री के दफ्तर के कई कर्मचारी कोरोना संक्रमित, सीएम योगी ने खुद को किया आइसोलेट

पढ़ें :- ब्रैडपीट को भाया था भारत का ये प्राचीन शहर, पसंद आई थी साउथ से लेकर नार्थ तक की सभ्यता

प्रियंका गांधी ने बुधवार को बिलरियागंज में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन कर रही महिलाओं का दर्द सुना। प्रियंका ने महिलाओं से कहा कि आपके साथ नाइंसाफी हुई है। हम सभी को इसके खिलाफ खड़ा होना होगा। प्रियंका ने इस दौरान योगी सरकार पर हमला करते हुए कहा, यह सरकार पूरी तरह से दलित विरोधी है। प्रियंका ने सीएए के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों की गिरफ़्तारी पर भी सवाल उठाए और कहा कि पुलिस ने निर्दोष लोगों को जेल में डाला है। प्रियंका ने कहा कि कांग्रेस इसके खिलाफ लड़ाई लड़ेगी, कांग्रेस इस मुद्दे को सड़क से लेकर संसद तक उठायेगी।

प्रियंका गांधी जैसे ही बिलरियागंज पहुंचीं तो वहां मौजूद पीड़ित महिलाओं ने अखिलेश यादव पर जमकर नाराजगी जाहिर की। मुस्लिम महिलाएं इस दौरान रोने लगी, इस दौरान मुस्लिम महिलाओं ने सपा विधायक नफीस अहमद पर पुलिस को उकसा कर लाठी चार्ज कराने का भी आरोप लगाया। महिलाओं ने प्रियंका गांधी से गिरफ्तार तहित मदनी समेत 18 लोगों की रिहाई की मांग भी की। एक पीड़ित महिला जैनब शेख ने कहा कि अखिलेश यादव जिले के नेता हैं, लेकिन उन्होंने हम लोगों का हाल भी नहीं जाना। आपको बता दें कि हाल ही में आजमढ़ में अखिलेश यादव के खिलाफ लापता के पोस्टर लगे थे और आरोप लगाया गया था कि मुस्लिम महिलाओं के साथ हुई बर्बता पर अखिलेश यादव चुप हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...