प्रियंका चोपड़ा को यूनिसेफ के मानवतावादी पुरस्कार से किया गया सम्मानित

प्रियंका चोपड़ा को यूनिसेफ के मानवतावादी पुरस्कार से किया गया सम्मानित
प्रियंका चोपड़ा को यूनिसेफ के मानवतावादी पुरस्कार से किया गया सम्मानित

मुंबई। बॉलीवुड से हॉलीवुड तक में छाने वाली अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा को यूनिसेफ के डैनी काये मानवतावादी पुरस्कार से सम्मानित किया गया। इसी साल के जून में संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (यूनिसेफ) ने बतौर 2019 के पुरस्कार विजेता पर प्रियंका चोपड़ा के नाम की घोषणा की थी। प्रियंका ने यहां स्नोफ्लेक बॉल में यह पुरस्कार ग्रहण किया।

Priyanka Chopra Receive Unicef Award :

पुरस्कार मिलने के बाद प्रियंका ने कहा, समाज सेवा अब कोई विकल्प नहीं रह गया है। यह जीवन का एक माध्यम बन गया है। यह पुरस्कार एक अमेरिकी अभिनेता और समाज सेवक डैनी काये के नाम पर रखा गया है, जो यूनिसेफ के पहले सद्भावना दूत थे। मशहूर फैशन डिजाइनर डायेन वॉन फॉस्टनबर्ग ने अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा को यह पुरस्कार सौंपा। काफी लंबे समय तक यूनिसेफ की सद्भावना दूत रहीं प्रियंका ने संगठन के साथ अभी तक की अपनी जर्नी का जिक्र भी किया।


प्रियंका ने कहा कि, ‘तब मैं केवल अभिनेत्री बनी थी और मुझे लगने लगा था कि मुझे समाज सेवा करने के लिए एक मंच मिल गया है। मैंने उन अभियानों के साथ जुड़ना शुरू कर दिया, जिसे मैं बहुत महत्वपूर्ण मानती थी। मैं थैलेसीमिया ग्रस्त बच्चों और अन्य बच्चों के स्वास्थ्य के लिए काम करने लगी। तभी मुझे एहसास हुआ कि मैं बहुत सारे बच्चों के साथ काम कर रही हूं। मेरी तत्कालीन प्रबंधक नताशा पाल ने मुझे बताया कि यूनिसेफ नाम का यह संगठन है और मुझे इसमें काम करना चाहिए।’

मुंबई। बॉलीवुड से हॉलीवुड तक में छाने वाली अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा को यूनिसेफ के डैनी काये मानवतावादी पुरस्कार से सम्मानित किया गया। इसी साल के जून में संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (यूनिसेफ) ने बतौर 2019 के पुरस्कार विजेता पर प्रियंका चोपड़ा के नाम की घोषणा की थी। प्रियंका ने यहां स्नोफ्लेक बॉल में यह पुरस्कार ग्रहण किया। [embed]https://www.instagram.com/tv/B5qv08JnyUC/?utm_source=ig_web_copy_link[/embed] पुरस्कार मिलने के बाद प्रियंका ने कहा, समाज सेवा अब कोई विकल्प नहीं रह गया है। यह जीवन का एक माध्यम बन गया है। यह पुरस्कार एक अमेरिकी अभिनेता और समाज सेवक डैनी काये के नाम पर रखा गया है, जो यूनिसेफ के पहले सद्भावना दूत थे। मशहूर फैशन डिजाइनर डायेन वॉन फॉस्टनबर्ग ने अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा को यह पुरस्कार सौंपा। काफी लंबे समय तक यूनिसेफ की सद्भावना दूत रहीं प्रियंका ने संगठन के साथ अभी तक की अपनी जर्नी का जिक्र भी किया।
प्रियंका ने कहा कि, 'तब मैं केवल अभिनेत्री बनी थी और मुझे लगने लगा था कि मुझे समाज सेवा करने के लिए एक मंच मिल गया है। मैंने उन अभियानों के साथ जुड़ना शुरू कर दिया, जिसे मैं बहुत महत्वपूर्ण मानती थी। मैं थैलेसीमिया ग्रस्त बच्चों और अन्य बच्चों के स्वास्थ्य के लिए काम करने लगी। तभी मुझे एहसास हुआ कि मैं बहुत सारे बच्चों के साथ काम कर रही हूं। मेरी तत्कालीन प्रबंधक नताशा पाल ने मुझे बताया कि यूनिसेफ नाम का यह संगठन है और मुझे इसमें काम करना चाहिए।'