1. हिन्दी समाचार
  2. शिक्षा
  3. सीबीएसई की परीक्षा को लेकर ​बोर्ड के निर्णय पर भड़की प्रियंका गांधी, बताया-गैर-जिम्मेदाराना बरताव

सीबीएसई की परीक्षा को लेकर ​बोर्ड के निर्णय पर भड़की प्रियंका गांधी, बताया-गैर-जिम्मेदाराना बरताव

देश में कोरोना संक्रमण का आंकड़ा तेजी से बढ़ता जा रहा है। कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों ने लोगों को एक बार फिर डरा दिया है। बीते 24 घंटे में 1.31 लाख से ज्यादा कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। वहीं, इस बीच सोशल मीडिया पर चार मई से 11 जून तक आयोजित होने वाली दवसीं और बारवहीं की परीक्षाओं को स्थगित या फिर आनलाइन कराए जाने की मांग की जा रही है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमण का आंकड़ा तेजी से बढ़ता जा रहा है। कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों ने लोगों को एक बार फिर डरा दिया है। बीते 24 घंटे में 1.31 लाख से ज्यादा कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। वहीं, इस बीच सोशल मीडिया पर चार मई से 11 जून तक आयोजित होने वाली दवसीं और बारवहीं की परीक्षाओं को स्थगित या फिर आनलाइन कराए जाने की मांग की जा रही है।

पढ़ें :- CBSE : सीबीएसई स्कूलों में प्रायोगिक परीक्षा एक जनवरी से, जल्द जारी होगा विस्तृत शेड्यूल

वहीं, इसको लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी का एक ट्वीट आया है और उन्होंने बोर्ड को गैर जिम्मेदार बताते हुए छात्रों के पक्ष में एक ​ट्वीट किया है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा है कि मौजूदा स्थिति को देखते हुए सीबीएसई द्वारा छात्रों को बोर्ड परीक्षा देने के लिए मजबूर करना गैर-जिम्मेदाराना बरताव है।

पढ़ें :- Congress President Result Live : थरूर गुट ने यूपी में काउंटिंग रद्द करने की मांग, लगाया धांधली का आरोप

बोर्ड परीक्षाओं को कुछ समय के लिए रद्द या स्थगित कर देना चाहिए। सीबीएसई कोई ऐसी व्यवस्था भी कर सकता है जिसके तहत विद्यार्थियों को परीक्षा देने के लिए शारीरिक उपस्थिति न होना पड़े। बता दें कि, कोरोना संकट को देखते हुए 10वीं और 12वीं कक्षा के करीब एक लाख छात्रों याचिकाओं पर हस्ताक्षर कर सरकार से मई में आयोजित होने वाली बोर्ड परीक्षाओं को रद्द करने या ऑनलाइन आयोजित करने की मांग की थी।

साथ ही बीते दो दिनों से ट्विटर पर हैशटैग ‘कैंसल बोर्ड एग्जाम्स 2021’ भी ट्रेंड कर रहा है। लेकिन केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने शुक्रवार को यह स्पष्ट कर दिया कि दसवीं और बारहवीं की बोर्ड परीक्षाएं निर्धारित शेड्यूल के अनुसार ही आयोजित की जाएंगी। इस दौरान कोविड-19 के सभी दिशा-निर्देशों का पालन किया जाएगा। वहीं, बोर्ड के इस निर्णय को लेकर प्रियंका गांधी ने नाराजगी जताई है।

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...