प्रियंका बोलीं-उन्नाव में 11 महीने में हो चुके हैं 90 रेप, सरकार महिलाओं के साथ या अपराधियों के?

priyanka gandhi
प्रियंका बोलीं-उन्नाव में 11 महीने में हो चुके हैं 90 रेप, सरकार महिलाओं के साथ या अपराधियों के?

लखनऊ। यूपी में हो रही अपराधिका घटनाओें को लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा लगातार योगी सरकार पर हमला बोलती रहती हैं। वहीं अब उन्नाव के बिहार की रेप पीड़िता के मामले में उन्होने योगी सरकार की कार्यशैली पर बड़ा सवाल खड़ा कर दिया है। प्रियंका गांधी ने दावा किया है कि बीते 11 महीने में उन्नाव में 90 रेप हो चुके है। अब सरकार को बताना होगा कि सरकार महिलाओं के साथ है या फिर अपराधियों के?

Priyanka Gandhi Said 90 Rape In 11 Months In Unnao Government With Women Or Criminals :

लखनऊ में कल प्रियंका गांधी पार्टी पदाधिकारियों के साथ बैठक करने आयी थी। बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत की। इस दौरान उन्होने उन्नाव बीजेपी के पूर्व विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के मामले की तरफ इशारा किया और कहा योगी सरकार ने उन्नाव के पिछले मामले में अंत तक अपराधियों को बचाने का पूरा प्रयास किया। प्रियंका गांधी लगातार यूपी की कानून व्यवस्था और सरकार की मंसा पर सवाल खड़े कर रही हैं। हाल ही में मैनपुरी की घटना में उनके ट्वीट के बाद ही योगी सरकार ऐक्शन में आती दिखी थी।

इस दौरान प्रियंका गांधी ने कहा, सरकार का पहला कर्तव्य होता है कि प्रदेश की कानून-व्यवस्था को कायम रखे। उन्नाव में बीते 11 महीनों में 90 बलात्कार की घटनाएं सामने आयी हैं, अब सरकार को फैसला लेना होगा कि वह महिलाओं के पक्ष में है या फिर अपराधियों के ?’ पिछले मामले में भी योगी सरकार लगातार आरो​पी की मदद करती रही, जबतक पीड़िता का पूरा परिवार खत्म नही हो गया तबतक आरोपी को बचाती रही।

इस दौरान उन्होने संभल, मैनपुरी की घटनाओं का भी जिक्र किया। सीएम योगी को सुझाव देते हुए उन्होने कहा कि सरकार को हर जिले के पुलिस अ​धीक्षक को सुझाव देना चाहिए कि महिलाओं के हर मामले की जानकारी सीएम कार्यालय को दी जाये। उन्नाव रेप पीड़िता के मामले में उन्होने कहा कि मामले में चार महीने बाद अदालत के आदेश पर पीड़िता का मुकदमा दर्ज हुआ। निर्भया कांड के बाद सख्त कानून बने लेकिन उसे सही से लागू नही किया गया।

हालांकि इस दौरान हैदराबाद में हुए गैंगरेप के आरोपियों के एनकाउंटर के मामले में वो कुछ नही बोली। उन्होन कहा कि हम पूरी तरह से महिलाओं के लिए लड़ेंगे। उन्होने कहा कि मैं अपनी बहनों से कहती हूं कि आप पुरुषों से सत्ता छीनिए, पंचायत के चुनाव लड़िए, विधानसभा के चुनाव लड़िए, आगे बढ़िए और राजनीति में आइए। उनका कहना है कि अब जरूरत है कि महिलाएं भी ज्यादा से ज्यादा सत्ताा में आयें।

लखनऊ। यूपी में हो रही अपराधिका घटनाओें को लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा लगातार योगी सरकार पर हमला बोलती रहती हैं। वहीं अब उन्नाव के बिहार की रेप पीड़िता के मामले में उन्होने योगी सरकार की कार्यशैली पर बड़ा सवाल खड़ा कर दिया है। प्रियंका गांधी ने दावा किया है कि बीते 11 महीने में उन्नाव में 90 रेप हो चुके है। अब सरकार को बताना होगा कि सरकार महिलाओं के साथ है या फिर अपराधियों के? लखनऊ में कल प्रियंका गांधी पार्टी पदाधिकारियों के साथ बैठक करने आयी थी। बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत की। इस दौरान उन्होने उन्नाव बीजेपी के पूर्व विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के मामले की तरफ इशारा किया और कहा योगी सरकार ने उन्नाव के पिछले मामले में अंत तक अपराधियों को बचाने का पूरा प्रयास किया। प्रियंका गांधी लगातार यूपी की कानून व्यवस्था और सरकार की मंसा पर सवाल खड़े कर रही हैं। हाल ही में मैनपुरी की घटना में उनके ट्वीट के बाद ही योगी सरकार ऐक्शन में आती दिखी थी। इस दौरान प्रियंका गांधी ने कहा, सरकार का पहला कर्तव्य होता है कि प्रदेश की कानून-व्यवस्था को कायम रखे। उन्नाव में बीते 11 महीनों में 90 बलात्कार की घटनाएं सामने आयी हैं, अब सरकार को फैसला लेना होगा कि वह महिलाओं के पक्ष में है या फिर अपराधियों के ?' पिछले मामले में भी योगी सरकार लगातार आरो​पी की मदद करती रही, जबतक पीड़िता का पूरा परिवार खत्म नही हो गया तबतक आरोपी को बचाती रही। इस दौरान उन्होने संभल, मैनपुरी की घटनाओं का भी जिक्र किया। सीएम योगी को सुझाव देते हुए उन्होने कहा कि सरकार को हर जिले के पुलिस अ​धीक्षक को सुझाव देना चाहिए कि महिलाओं के हर मामले की जानकारी सीएम कार्यालय को दी जाये। उन्नाव रेप पीड़िता के मामले में उन्होने कहा कि मामले में चार महीने बाद अदालत के आदेश पर पीड़िता का मुकदमा दर्ज हुआ। निर्भया कांड के बाद सख्त कानून बने लेकिन उसे सही से लागू नही किया गया। हालांकि इस दौरान हैदराबाद में हुए गैंगरेप के आरोपियों के एनकाउंटर के मामले में वो कुछ नही बोली। उन्होन कहा कि हम पूरी तरह से महिलाओं के लिए लड़ेंगे। उन्होने कहा कि मैं अपनी बहनों से कहती हूं कि आप पुरुषों से सत्ता छीनिए, पंचायत के चुनाव लड़िए, विधानसभा के चुनाव लड़िए, आगे बढ़िए और राजनीति में आइए। उनका कहना है कि अब जरूरत है कि महिलाएं भी ज्यादा से ज्यादा सत्ताा में आयें।