1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव, 2022
  3. प्रियंका गांधी ,बोलीं-मैं यूपी से लड़ सकती हूं चुनाव, लेकिन मैं कांग्रेस की सीएम कैंडिडेट…

प्रियंका गांधी ,बोलीं-मैं यूपी से लड़ सकती हूं चुनाव, लेकिन मैं कांग्रेस की सीएम कैंडिडेट…

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि वह यूपी विधानसभा चुनाव लड़ सकती हैं। एक टीवी इंटरव्यू प्रियंका ने कहा कि मैं यूपी चुनाव में लड़ सकती हूं ,लेकिन यह नहीं मान सकती कि मैं मुख्‍यमंत्री उम्‍मीदवार हूं। शुक्रवार को ही प्रेस कॉन्‍फ्रेंस का जिक्र करते हुए प्रियंका ने कहा कि यह केवल जुबानी टिप्‍पणी के रूप में था। आज सुब‍ह जब प्रियंका से पूछा गया था कि यूपी चुनाव के लिए कांग्रेस का मुख्‍यमंत्री उम्‍मीदवार कौन होगा तो उनका जवाब था- आप हर कहीं मेरा चेहरा देख सकते हैं। नहीं देख सकते क्‍या?

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्‍ली । कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि वह यूपी विधानसभा चुनाव लड़ सकती हैं। एक टीवी इंटरव्यू प्रियंका ने कहा कि मैं यूपी चुनाव में लड़ सकती हूं ,लेकिन यह नहीं मान सकती कि मैं मुख्‍यमंत्री उम्‍मीदवार हूं। शुक्रवार को ही प्रेस कॉन्‍फ्रेंस का जिक्र करते हुए प्रियंका ने कहा कि यह केवल जुबानी टिप्‍पणी के रूप में था। आज सुब‍ह जब प्रियंका से पूछा गया था कि यूपी चुनाव के लिए कांग्रेस का मुख्‍यमंत्री उम्‍मीदवार कौन होगा तो उनका जवाब था- आप हर कहीं मेरा चेहरा देख सकते हैं। नहीं देख सकते क्‍या?

पढ़ें :- क्या आजम खान और अखिलेश के बीच मिट गई दूरियां, जानिए कपिल सिब्बल में इसमें भूमिका?

 

इस जवाब के बाद यह अटकलें शुरू हो गई थी थी कि अब तक सक्रिय सियासत से दूर प्रियंका अब इसके लिए तैयार हैं। यूपी में पार्टी के चुनाव अभियान का नेतृत्‍व कर रही प्रियंका से जब यह सवाल दोहराया गया था, तो उन्‍होंने कहा था कि आप मेरा चेहरा देख सकते हैं, नहीं देख सकते। उन्‍होंने इंटरव्‍यू में कहा कि मैंने स्‍पष्‍ट रूप से कहा कि यह एक टिप्‍पणी की थी। चुनाव बाद किसी पार्टी को समर्थन देने के सवाल पर प्रियंका गांधी ने कहा कि जब ऐसी परिस्थितियां आएंगी तब इस फैसला किया जाएगा। मेनिफेस्टो जारी करने के दौरान पत्रकारों की ओर से पूछ गए सवाल में जवाब में उन्होंने यह बात कही थी।

प्रियंका गांधी ने चुनाव बाद किसी राजनीतिक दल को समर्थन देकर सरकार में शामिल होने के सवाल पर कहा कि जब ऐसी परिस्थितियां आएंगी तब यह तय किया जाएगा। अगर ऐसी परिस्थिति आएगी और हम किसी गठबंधन की सरकार में शामिल होंगे या समर्थन करेंगे तो हम चाहेंगे कि हमने जो एजेंडा महिलाओं और युवाओं के लिए आप सबके सामने बताया वो पूरा कराएंगे। हम चाहेंगे कि वो एजेंडा पूरा हो और शायद वो एक शर्त होगी हमारी।

पढ़ें :- Jitendra Tyagi लेंगे संन्यास, करेंगे सनातन धर्म का प्रचार-प्रसार
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...