1. हिन्दी समाचार
  2. राहुल गांधी की नाकामी का ऐलान है प्रियंका की सियासत में एंट्री: जेपी नड्डा

राहुल गांधी की नाकामी का ऐलान है प्रियंका की सियासत में एंट्री: जेपी नड्डा

Priyanka Gandhis Entry In Politics Is The Failiure Of Rahul Gandi Says Bjp Leaders

By आशीष यादव 
Updated Date
नई दिल्ली। प्रियंका गांधी वाड्रा की सक्रिय राजनीति में आने पर कुछ लोग इसे राहुल गांधी की हार बता रहे तो, वही कुछ लोग प्रियंका को कांग्रेस की आखिरी उम्मीद बता रहे। उत्तरप्रदेश में भाजपा के प्रभारी और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा भी पीछे नहीं रहे। उन्होने कहा कि आधिकारिक रूप से प्रियंका गांधी को महासचिव बना दिया गया है। हर किसी को पता है यह परिवार की पार्टी है। यह राहुल गांधी की नाकामी का पहला ऐलान है।
इसी बात पर कटाक्ष करते हुए लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन राहुल गांधी के नाकाम होने पर ही प्रियंका को सियासी कमान संभालनी पड़ी है। हालाकि उन्होने प्रियंका गांधी वाड्रा को कांग्रेस का महासचिव और पूर्वांचल का प्रभारी बनाए जाने पर बधाई दी। उन्होने कहा कि वह अच्छी महिला हैं और राहुल जी ने भी मान लिया है कि वह अकेले राजनीति नहीं कर सकते। शायद इसीलिए वो प्रियंका की मदद ले रहे हैं।
वहीं भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने प्रियंका को पूर्वांचल का प्रभारी बनाए जाने को परिवारवाद बताया है। प्रियंका के सियासत मे आने के बाद उन्होंने राहुल पर तंज़ कसते हुए कहा कि यह राहुल गांधी की नाकामी की सार्वजनिक घोषणा है। आगे उन्होने इस बात पर ज़ोर डालते हुए कहा- नए भारत में आखिर कब तक परिवारवाद चलेगा? उन्होने कहा कि हमारे लिए पार्टी ही परिवार है, जबकि उनके लिए परिवार ही पार्टी है।

पढ़ें :- बंगालः नारेबाजी से नाराज हुईं ममता बनर्जी, कहा-किसी को बुलाकर बेइज्जत करना ठीक नहीं

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...